ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
1 लाख 90 हजार से अधिक श्रमिक प्रदेश वापस लाए गए: मंत्री सिलावट
May 12, 2020 • Admin

श्रमिकों को प्रदेश में लाने की कवायद जारी - मंत्री श्री सिलावट

भोपाल । प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने बताया कि प्रदेश के बाहर दूर-दराज अंचलों में फंसे श्रमिकों को मध्यप्रदेश सरकार के लगातार प्रयासों से वापस प्रदेश लाया में जा रहा हैं। साथ ही अन्य राज्यो के श्रमिकों को भी सकुशल उनके निवास स्थान तक समुचित व्यवस्थाओं के माध्यम से भेजा जा रहा है।   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के लगातार प्रयासों से और कार्यशैली से श्रमिकों को वापस लाने और अन्य राज्यो में भेजने की व्यवस्था की जा रही है। लॉकडाउन के शुरुआती दिनों से ही वे इस संबंध में प्रयासरत् हैं।  मंत्री श्री सिलावट ने बताया कि अब तक गुजरात से करीब 95 हज़ार, राजस्थान से 42 हजार और महाराष्ट्र से 40 हजार श्रमिक वापस लाए गए हैं। प्रदेश में अलग अलग प्रदेशो से 1लाख 90 हजार से अधिक श्रमिक घर लाए जा चुके है। रीवा और सतना के श्रमिको को उनके घर भेजने के लिए 13 और 14 मई को इंदौर से विशेष श्रमिक ट्रेन रवाना की जाएगी।  आज भी 1400 श्रमिको को मोरवी गुजरात से ट्रेन हबीबगंज स्टेशन पहुँची है। जिसमे 10 से अधिक जिलो के श्रमिकों बसों से उनके गृह जिला भेजा गया।
    मंत्री श्री सिलावट ने बताया कि इसके अतिरिक्त गोवा, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, केरल, आंध्र प्रदेश एवं तेलंगाना राज्यो से भी श्रमिकों को वापस मध्यप्रदेश लाया गया है। इस प्रकार अब तक करीब 1 लाख 90 हजार से अधिक श्रमिकों की प्रदेश में वापसी कराई गई है। प्रदेश के विभिन्न जिलों में फंसे करीब 60 हज़ार श्रमिकों को पिछले 12 दिनों में उनके गृह स्थान पहुंचाया गया है। इसी दिशा में आज 10 ट्रेनें विभिन्न स्थानों से मजदूरों को लेकर आईं हैं। गत दिवस भी कुल आठ ट्रेनें में प्रदेश आई हैं। इसके अतिरिक्त 31 ट्रेनों के लिए एडिशनल रिक्विजिशन भेजा गया है। इस प्रकार कुल 56 ट्रेनों के लिए अतिरिक्त रिक्विजिशन रेलवे को भेजा जा चुका है और आवश्यकता होने पर ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जाएगी।