ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
21 दिन का लॉकडाउन, जनता के प्रति प्रशासन का रहा पूरा सहयोग
March 26, 2020 • Admin
भोपाल। कोरोना वायरस के संक्रमण को फेलने रोकने के लिए प्रधानमंत्री ने भारत में 21 दिन के लिए लॉकडाउन की घोषणा की है जिसका पालन जिला प्रशासन के द्वारा भलीभांति करवाया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने कोरोना  वायरस के प्रभाव से दूसरे देशों की स्थिति को देखकर 21 दिन के लिए लॉकडाउन की घोषणा की है।राजधानी में प्रशासन के द्वारा लॉकडाउन में भी पूरी तरह से सहयोग किया जा रहा है। आवश्यक वस्तुओं व सुविधाओं का भी विशेष ध्यान रखा जा रहा है। आवश्यक वस्तुएं जैसे दूध पार्ल, गंभीर मरीज, अस्पताल कर्मी, किराना दुकान, मेडिकल दुकान, पेट्रोल पंप, किराना दुकान, पानी सप्लाई फल सब्जी, पशुआहार को लेकर किसी भी तरह की परेशानी ना हो उसके लिए प्रशासन हर संभव मदद कर रहा है। अगर किसी भी तरह से अन्य कोई परेशानी है तो उसे भी हल करने के प्रयास प्रशासनके द्वारा किए जाने तत्पर है। शहर की जनता को किसी भी तरह की पेरशानी से मुक्त रखकर लॉकडाउन का पालन करवाया जा रहा है। वहीं एक दो जगह अवश्य पुलिस प्रशासन के द्वारा सख्ती की गई है। वह भी जनता की सुरक्षा का महत्वपूर्ण हिस्सा है।  
लॉकडाउन से सामने आ रहे हैं संक्रमित संदिग्धों के मामने
इससे देश की जनता को पूरी तरह से सुरक्षित रहने में आसानी होगी। इसका प्रमुख कारण है कि इस बीमारी को फेलने में एक दूसरे के संपर्क में आना है। जो लॉकडाउन से रोका जा सकता है। दूसरे देशों से अपने यहां वापस आये हजारों लोग इस भीड़ में शामिल हो गए हैं जिनकी पहचान इतनी आसानी से होना संभव नहीं थी। और अगर एैसा नहीं कियाजाता तो प्रतिदिन पचास गुना मरीज बढऩे की संभावना रहती। वह तो हमारे यहां की सरकार ने जल्द ही इसे रोकने के लिए सख्त कदम उठाए और लॉकडाउन करने के आदेश किए गए। आज स्थिति यह हैकि अब जो भी कोरोना से संक्रमित हैं वह सब मामले सामने आते जा रहे हैं। और उन्हें उनके ही घर में सेनेटराइज किया जाता रहा है। इससे मरीजों में बढ़ोत्तरी तो हो रही है। पर यह वहीं मरीज हैं जो जनता की भीड़ में सामने नहीं आ रहे थे। 21 दिन तक इस महामारी पर भारत विजय प्राप्त कर सकता है, अगर जनता इसमें सहयोग करे।