ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
22 लाख रुपये का मादक पदार्थ 1.5 क्विंटल गांजा सहित दो आरोपी गिरफतार
October 8, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक उपेंद्र जैन एवं पुलिस उपमहानिरीक्षक संजय तिवारी के मार्गदर्शन में पुलिस अधीक्षक श्री प्रदीप शर्मा  द्वारा जिले में अवैध मादक पदार्थो की तस्करी के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है जिसके तहत थाना मलावर द्वारा भारी मात्रा में अवैध मादक पदार्थ गांजा की तस्करी करने वाले नशे के सौदागरों को गिरफतार किया जाकर उनसे लाखों रुपए का अवैध मादक पदार्थ गांजा व एक चार पहिया वाहन जप्त किया गया।  
          अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  एस आर दंडोतिया के निर्देशन एवं एसडीओपी भारतेन्दु शर्मा के नेतृत्व में थाना मलावर की पुलिस टीम को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि एक टोयोटा कार में अवैध मादक पदार्थ गांजा भोपाल तरफ से ब्यावरा होते हुए राजस्थान अजमेर तरफ जाने वाला है सूचना पर थाना प्रभारी मलावर द्वारा वरिष्ट अधिकारियों को अवगत कराया जाकर पुलिस टीम को पगारी बंगला तिराहे पर घेराबंदी कर बताये हुलिये की ग्रे रंग की  टोयोटा कंपनी की इटियोस कार क्र आरजे 27सीडी 5290 पहुचने पर उसे रोक कर चेक करने पर उसमें दो व्यक्ति बैठे मिले जिन्होने अपना नाम बशीर मोहम्मद पिता नबी मोहम्मद, उम्र 50 साल  निवासी प्रताप नगर अजमेर व रवि पिता फूल सिंह परमार 27 साल निवासी ठाकुरपाडा धोलपुर राजस्थान का होना बताया जिनके वाहन को चेक करने पर पीछे की सीट पर व डीक्की में से कुल 6 प्लास्टिक के बोरे मिले उसमें कुल 151.500 किलोग्राम अवैध मादक पदार्थ गांजा मिला जिन्हे आरोपीयों द्वारा हैदराबाद से अजमेर ले जाना बताया। 
            टीम द्वारा 1 क्विंटल 51 किलोग्राम गांजा कीमती 22,72,000 रुपये व टोयोटा इटियोस कार कीमती 7.56.000 रुपये सहित कुल कीमती 30 लाख 28 हजार रुपये का मशरूका जप्त किया जाकर आरोपी गणों को विधिवत गिरफतार किया गया एवं आरोपी गणों के विरुदध धारा 8/20 एनडीपीएस एक्ट के तहत पंजीबदध कर विवेचना में लिया गया।
            उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी मलावर उप निरीक्षक राजपाल सिंह , सउनि आषाराम भल्लावी, प्रधान आरक्षक 266 मनोहर शर्मा, प्रधान आरक्षक 473 कैलाष यादव, आरक्षक मुकेश पवैया, आरक्षक 972 शिवराज, आरक्षक 932 विषाल, आरक्षक 922 सुनील, आरक्षक 931 सुनील, आरक्षक 933 सुनील एवं आरक्षक 318 लोकेश सिलावट की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।