ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
आत्मनिर्भर भारत अभियान से  स्टार्टअप को मिलेगा बढ़ावा:  दुबे
August 16, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भारत यूथ फोरम द्वारा यंग संवाद के आखिरी दिन अमेरिका दूतावास से सम्मानित युवा उद्यमी ने किया संबोधित

भोपाल । भारत यूथ फोरम द्वारा चल रहे सात दिवसीय यंग संवाद के आखिरी दिन 'स्वरोजगार आज की आवश्यकता' विषय पर अमेरिकी दूतावास द्वारा स्टार्टअप के क्षेत्र में नवाचार के लिए सम्मानित,चाय सुट्टा बार के संस्थापक अनुभव दुबे ने संबोधित किया।
25 वर्षीय युवा उद्यमी अनुभव दुबे ने अपने स्टार्टअप (चाय सुट्टा बार) के बारे में बताते हुए कहा कि मैं ग्रेजुएशन करने के बाद  यूपीएससी की तैयारी करने के लिए दिल्ली चला गया क्यूंकि समाज में सरकारी नौकरी को ही प्राथमिक दर्जा दिया जाता है,मगर पढ़ाई में मन नहीं लगा। फिर हम तीन दोस्तों ने मिलकर स्टार्टअप शुरू करने का मन बनाया, मगर हमारे पास उस समय केवल तीन लाख रु थे, घर वालों को बता भी नहीं सकते थे कि चाय का स्टार्टअप कर रहे हैं। मगर हमने जिद को जुनून में बदला और आज हमें देश मे ही नहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली और अमेरिका दूतावास ने सम्मानित किया।03 लाख से शुरू किए गए व्यवसाय में आज तीन वर्षों में 36 करोड़ का टर्नओवर और 65 ब्रांच संचालित है।

प्रतिदिन लाखों कुल्हड़ से सैकड़ों लोगों को रोजगार मिला

अनुभव ने कहा कि हम विश्व में सबसे ज्यादा प्रतिदिन 1.5 से दो लाख कुल्हड़ की खपत करते हैं जिससे न जाने कितने मजदूरों को रोजगार मिलता है।आज कोविड -19 की इस चुनौती के बीच को धैर्य रखने की आवश्यकता है।

नाम ही ब्रांड बनता है
सुनने में यह नाम अजीब लगता है लेकिन जब नाम याद रहता है तभी नाम ब्रांड बनता है। उन्होंने युवाओं से अपनी बात साझा करते हुए कहा कि संघर्ष ही आपको क्रिएटिव बनाता है। जब आप अच्छा काम करते हो तो डरना भूल जाते हो, और वहीं से लड़ने की ताकत मिलती है। इसीलिए कोई भी काम छोटा और बड़ा नहीं होता बशर्ते वह ईमानदारी से किया गया हो।
*बचपन के संघर्ष बहुत कुछ सीखा देते हैं।  बचपन में जब गांव में पढ़ते थे तो वहां के सीमित संसाधन, एक जोड़ी कपड़े में गुजारा करना और बड़े शहरों में, बड़े स्कूलों में पढ़ने का सपना ही यहां तक लेकर आया।