ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
आयुक्त कार्यालय में प्रवेश पर होगी थर्मल स्क्रीनिंग और पल्स ऑक्सीमीटर से जांच
June 16, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल। आज से संभागीय कार्यालय भवन में संचालित सभी शासकीय कार्यालयों के अधिकारियों, कर्मचारियों को प्रवेश द्वार पर पल्स ऑक्सीमीटर एवं थर्मल स्कैनर से स्क्रीनिंग कराना अनिवार्य  किया गया है | कार्यालय के बाहर और अन्दर मास्क पहनना होगा। कोविड-19 महामारी के संक्रमण से बचाव हेतु भारत सरकार द्वारा शासकीय कार्यालयों के लिए जारी एसओपी का पालन कराने के उद्देश्य से संभागायुक्त  कवींद्र कियावत ने सभी कार्यालय प्रमुखों को आदेश दिए हैं | आदेश में स्पष्ट है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कार्यालय के अंदर बैठक व्यवस्था में कम से कम 2 मीटर की दूरी के सोशल डिस्टेंसिंग नियम का पालन करेंगे | कार्यशील के दौरान ऐसी को 24 से 30 सेंटीग्रेड तापमान एवं 40 से 70 प्रतिशत सापेक्षिक आद्रता पर संचालित करेंगे | कार्यालय के सभी दरवाजे, हैंडल सीढ़ियों, वाशबेसिन इत्यादि को एक प्रतिशत हाइपोक्लोराईड विलयन अथवा किसी अन्य संक्रमण मुक्त करने वाले विलयन से साफ सफाई करवाएंगे | प्रयोग किए गए दस्ताने और फेस कवर को सुरक्षित तरीके से डिस्पोज करेंगे, इसके लिए कार्यालय परिसर में कूड़ादान रखवाया जाएं | कार्यालय भवन के बाहर वाहन चालकों, अंगरक्षक को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कोविड-19 संक्रमण से बचाव के Do's and don'ts का पालन करना होगा l सभी वाहन चालक 1 प्रतिशत हाइपो क्लोराईड विलयन/ डिटर्जेंट से वाहनों को कोविड-19 संक्रमण से मुक्त करना सुनिश्चित करेंगे | कार्यालय में कोई व्यक्ति कोविड संक्रमण पॉजिटिव पाया जाता है तो तत्काल अपने वरिष्ठ को अवगत कराते हुए चिकित्सीय सलाह अनुसार क्वारंटाइन होना सुनिश्चित करेंगे | कोई अधिकारी कर्मचारी कोविड संक्रमण क्षेत्र में निवास करता है तो उसे कार्यालय आने से मुक्त किया गया है।| इसके साथ ही कार्यालय परिसर में बिना मास्क प्रवेश वर्जित रहेगा। ध्रूमपान करते पाए जाने पर 500 रूपये जुर्माना किया जाएगा | उसके साथ ही जारी एक अन्य आदेश* में संभागायुक्त कार्यालय भवन में प्रवेश करने से पहले व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की लिए  प्रकाश सिसोदिया होमगार्ड प्रभारी के निर्देशन में दो व्यक्तियों की ड्यूटी लगाई है। प्रातः 10:00 से सांय 6:00 बजे तक कार्यालय भवन के प्रवेश द्वार पर समस्त व्यक्तियों की स्क्रीनिंग, पल्स ऑक्सीमीटर से रीडिंग और स्क्रीनिंग जांच की जाएगी।