ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
बालक वर्ग में भोपाल संभाग उप-विजेता रहा वॉलीबॉल के बालिका वर्ग में भोपाल ने पहला
February 4, 2020 • Vijay sharma
बालक वर्ग में तीसरा स्थान प्राप्त किया
बैडमिंटन के बालिका वर्ग में उप विजेता बना भोपाल संभाग
भोपा. राज्य स्तरीय गुरु नानक देव जी प्रांतीय ओलंपिक खेल के अंतर्गत प्रथम समूह में आज वॉलीबॉल, फुटबॉल, कुश्ती, बैडमिंटन और कबड्डी के फाइनल मुकाबले खेले गए। कुश्ती के बालिका वर्ग में भोपाल संभाग ओवरऑल चैंपियन बना। जबकि बालक वर्ग में भोपाल संभाग उप विजेता रहा। इसी प्रकार वॉलीबॉल के बालिका वर्ग में भोपाल ने पहला और बालक वर्ग में तीसरा स्थान प्राप्त किया।  प्रतियोगिता के अंतर्गत आज खेले गए बैडमिंटन के बालिका टीम इवेंट में भोपाल संभाग उप विजेता रहा।

विजेता, उप-विजेता खिलाड़ियों और टीमों को संचालक खेल और युवा कल्याण डॉ. एस. एल. थाउसेन ने ट्रॉफी एवं प्रोत्साहन राशि का चैक प्रदान कर सम्मानित किया। पदक विजेता खिलाड़ियों को ट्रैकसूट भी प्रदान किए गए। दलीय खेलों में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली टीमों को एक लाख रुपए, दूसरे स्थान वाली टीमों को 75 हजार तथा तृतीय स्थान हासिल करने वाली टीमों को 50 हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान कर सम्मानित किया गया। जबकि व्यक्तिगत स्पर्धाओं में प्रथम स्थान पर रहे खिलाड़ी को 7 हजार रुपए, द्वितीय स्थान के लिए 5 हजार और तृतीय स्थान पर रहे खिलाड़ी को 3 हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि के पुरस्कार से नवाजा गया।

प्रदेश को अधिकतम मैडल दिलाने पर फोकस

  मैडल सेरेमनी के दौरान खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए खेल संचालक डॉ. एस. एल. थाउसेन ने कहा कि मध्य प्रदेश को खेलों का हब बनाने के लिए खेल विभाग द्वारा हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत प्रदेश में खेलों का विकास किया जा रहा है। वेटलिफ्टिंग खेलों के विकास के लिए जिलों को प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराए गए हैं। राष्ट्रीय खेलों में प्रदेश को अधिकतम मैडल दिलाना खेल विभाग का लक्ष्य है और इस दिशा में आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में भागीदारी कर पदक जीतने वाले सभी खिलाड़ियों के प्रदर्शन की सराहना करते हुए  उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी

कुश्ती के बालिका वर्ग में भोपाल संभाग ने प्रथम, उज्जैन ने द्वितीय और जबलपुर संभाग ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। जबकि बालक वर्ग में इंदौर प्रथम, भोपाल द्वितीय और जबलपुर तृतीय स्थान पर रहा। भोपाल की खिलाड़ी प्रियंका यादव ने 62 किलोग्राम और खुशबू ने 65 किलोग्राम भारवर्ग में एक-एक स्वर्ण पदक अर्जित किया। जबकि 53 किलोग्राम भार वर्ग में रमा तिवारी ने रजत, 50 किलोग्राम भार वर्ग में छाया पटेल, 55 किलोग्राम में भारती तथा 59 किग्रा भार वर्ग में नायाब खान ने एक-एक कांस्य पदक अर्जित किया। बालक वर्ग में भोपाल के खिलाड़ी सौरभ ने 61 किलोग्राम भार वर्ग में स्वर्ण पदक जीता। जबकि 57 किग्रा में लोकेश परमार और 92 किग्रा भार वर्ग में रोहित ने एक-एक रजत तथा 86 किग्रा में लखन ने कांस्य पदक अर्जित किया।
फुटबॉल के बालिका वर्ग में जबलपुर पहले, नर्मदापुरम संभाग दूसरे और इंदौर संभाग तीसरे स्थान पर रहा। जबकि बालक वर्ग में जबलपुर पहले, भोपाल दूसरे और सागर तीसरे स्थान पर रहा।
बैडमिंटन में बालक वर्ग के टीम इवेंट में उज्जैन प्रथम, रीवा द्वितीय और भोपाल तृतीय स्थान पर रहा। जबकि बालिका वर्ग में इंदौर पहले, भोपाल दूसरे और ग्वालियर संभाग तीसरे स्थान पर रहा। बैडमिंटन की व्यक्तिगत बालक स्पर्धा में रीवा के शिशिर द्विवेदी ने स्वर्ण, इंदौर के अनिकेत ने रजत और इंदौर के ही खिलाड़ी अनस मोहम्मद ने कांस्य पदक जीता। जबकि बालिका वर्ग में इंदौर की मिहिका ने स्वर्ण, इंदौर की खुशी सेन ने रजत तथा भोपाल की दृष्टि गुप्ता ने कांस्य पदक हासिल किया। वॉलीबॉल के बालिका वर्ग में भोपाल पहले स्थान पर रहा। जबकि जबलपुर दूसरे और नर्मदापुरम संभाग तीसरे स्थान पर रहा। बालक वर्ग में जबलपुर ने पहला ग्वालियर ने दूसरा और भोपाल संभाग में तीसरा स्थान हासिल किया। कबड्डी में खेले गए बालिका वर्ग के फाइनल मुकाबलों में जबलपुर पहले, इंदौर दूसरे और नर्मदापुरम संभाग तीसरे स्थान पर रहा। बालक वर्ग में जबलपुर पहले रीवा दूसरे और उज्जैन संभाग तीसरे स्थान पर रहा।