ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
बी ए एम एस की परीक्षा कल से, एनएसयूआई मेडिकल विंग ने मंत्री से की रद्द करने की मांग 
July 13, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल ।  मध्य प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय  के बीएएमएस अंतिम वर्ष के छात्र- छात्राएं की परीक्षा स्थगित करने के लिये एनएसयूआई मेडिकल विंग के प्रदेश समन्वयक रवि परमार के नेतृत्व में बीएएमएस अंतिम वर्ष के छात्र छात्राओं ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग को पहला ज्ञापन सौंपकर कल 14 जुलाई से होने वाली परीक्षा को स्थगित करने की मांग की  | चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने इस मांग को जायस समझते हुए तत्काल मेडिकल विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ टी एन दुबे को फोन कर 1-2  घंटे में छात्र हित में निर्णय लेने के लिए कहा । रवि परमार ने कहा कि कोरोना की गति दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है भोपाल और इंदौर जैसे शहरों में दोबारा से लॉकडाउन जैसी स्थिति बन रही है और संक्रमण लगातार तेजी के साथ बढ़ता जा रहा है ऐसे में हमने विद्यार्थियों के साथ चिकित्सा मंत्री से संक्रमण को देखते विश्वविद्यालय द्वारा जो 14 जुलाई से अंतिम वर्ष की परीक्षाएं करवाया जा रही हैं वो तत्काल स्थगित की जाये 

रवि ने मंत्री विश्वास सारंग को अवगत कराया कि बहुत से बच्चे कंटेनमेंट जोन में रह रहे हैं और वही  जो परीक्षा केंद्र बनाया गया है वह भी कोविड-19 सेन्टर हैं जिससे कि छात्रों को संक्रमण का अत्यधिक खतरा है एवं कुछ बच्चे ऐसे स्थानों पर रहते हैं जहां से की बस एवं ट्रेन की सुविधा उपलब्ध नहीं है कुछ बच्चे दूसरे राज्यों में भी रहे हैं जैसे महाराष्ट्र गुजरात उत्तर प्रदेश बिहार जोकि कोरोना का हॉटस्पॉट बने हुए हैं एवं वहां से  आ  पाना संभव नहीं है  छात्रावास भी नहीं खुल रहे हैं एवं जो विद्यार्थी पीजी अथवा फ्लैट लेकर रह रहे हैं उन्हें भी बहुत ही परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है  | परमार ने मंत्री को अवगत कराया कि अगर परीक्षा अंतराल में अगर हमें कोई संक्रमण होता है तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा  सरकार लेगी या यूनिवर्सिटी लेगी यहां हमें स्पष्ट करें  या कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जुलाई माह में परीक्षा आयोजित की जा रही है वहां तत्काल रद्द करने की मांग कि इस मौके पर  आनंद राय, पवन सिह, अमन कुरैशी, मनीष दास, गौरव पाटीदार, अभिषेक चतुर्वेदी, नितेश रावत, मोनिका उपमन्यु ,नीतू ठाकुर, हेमा, शिवम अवस्थी, शिक्षा मिश्रा, प्रांजलि दुबे, भव्य सक्सेना ओर अन्य छात्रो ने ज्ञापन सौंपा कर परीक्षा रद्द करने की मांग की ।