ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
बिछुआ में जारी भागवत कथा
February 20, 2020 • Vijay sharma

नरसिंहपुर। समीपी ग्राम विछुआ स्थित नर्मदा कुण्ड स्थल झिरिया माता पर 14फरवरी से21 फरवरी तक श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। कथा  वाचक पं बालकृष्ण महाराज द्वारा ओजपूर्ण शेली में प्रवचन किये जा रहे हैं। कथा श्रवण करने विछुआ, गोकला सहित अनेक ग्रामों से श्रद्धालु पहुँच रहे है। कथा में बताया कि भागवत कथा अमर कथा है। जिसके लिए भगवान शंकर से सुनने के लिए माता पार्वती ने जिद की। और जब भगवान शंकर अमर कथा सुनाने लगे तो बीच मे ही उनकी नींद लग गई। इस अमर कथा को तोते के बच्चे के रूप में वहां मौजूद सुकदेव ने भी सुन लिया। जिसे जानकर क्रोधित होकर सुकदेव को मारने शंकर जी ने त्रिशूल छोड़ दिया। बचने के लिये सुकदेव व्यास ऋषि की पत्नी के मुँह में प्रवेश कर 12वर्ष तक उनके पेट मे ही रहे। इसके बाद बाहर आकर उन्होंने इस अमर कथा को भागवत कथा के रूप में परीक्षित को सुनाई। भगवान श्रीकृष्ण जन्म की कथा का वृतान्त के बाद  श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया। ग्रामजनों द्वारा अपने घरों से बनाकर लाए गए गुड़ के लड्डुओं का वितरण किया गया। श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पर बधाई बजाई जिसमें महिलाओं व पुरुषों सहित बच्चे झूम झूमकर नाचे।