ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
बिना मास्क और सेनेटाईजर सर्वे में जुटी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, रहवासियों ने जताई संक्रमण फैलने की आशंका
April 4, 2020 • Admin
भोपाल। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए तैनात मैदानी अमला बिना सुरक्षा इंतजामों के काम कर रहा है। घर-घर जाकर बीमार और बुजुर्गों का सर्वे करने जा रही आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के पास ना तो मास्क है और सेनेटाईजर है। इसके चलते संक्रमण को फैलने से रोकने की तैयारियां नाकाफी साबित हो रही हैं।
जानकारी के अनुसार आज कोटरा सुल्तानाबाद क्षेत्र में आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने सर्वे शुरू किया। सर्वे के लिए पहुंची इन कार्यकर्ताओं के पास ना तो मास्क थे और ना ही सेनेटाईजर। इन कार्यकर्ताओं को बिना सुरक्षा इंतजामों के मैदान में उतार दिया गया है इससे इनके संक्रमित होने की आंशका बढ़ गई है इसके साथ ही संक्रमण को फैलाने का भय भी है। आंगनवाड़ी कार्यकर्ता विभिन्न क्षेत्रों में घर घर जाकर बीमार लोगों तथा बुजुर्गों का पता लगाने के लिए सर्वे कर रही है जिससे उन्हें सुरक्षित रखने के लिए पर्याप्त उपचार का इंतजाम किया जा सके लेकिन व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों के अभाव में यह सर्वे संक्रमण फैलाने में सहायक हो सकता है। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का कहना है कि उन्हें मैदान में आने के लिए ना तो मास्क दिए गए हैं और ना सेनेटाईजर दिया गया है। सुरक्षा के लिए वह पानी से हाथ धोकर काम चला रही हैं।
स्थानीय लोगों ने बिना सुरक्षा के घर घर सर्वे के लिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के आने पर ऐतराज जताया है। स्थानीय रहवासियों का कहना है कि इस तरह सर्वे के लिए आने से संक्रमण का खतरा बढ़ गया है और इससे लॉक डाउन में रहने का औचित्य भी समाप्त हो रहा है। रहवासियों ने मांग की है कि सर्वे आम लोगों को सुरक्षा, उपचार देने के लिए किया जा रहा है लेकिन इस बात का भी ध्यान रखा जाना चाहिए है कि कहीं इन्हीं की वजह से संक्रमण ना हो। कोरोना के उपचार में लगे मेडिकल अमले में जिस तरह संक्रमण देखने को मिला है उसे देखते हुए सर्वे के कार्यों में भी अतिरिक्त सुरक्षा बरतने की आवश्यकता है।