ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
बिना परमिशन के डीजे बजाया तो जाएंगे जेल
March 4, 2020 • Vijay sharma

 

सिंगरौली- माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के दसवीं बारहवीं कक्षा की परीक्षा के मद्देनजर रखते हुए सरई थाना प्रभारी ने ध्वनि प्रदुषण पर रोक लगाने के लिए आज थाने परिसर में  क्षेत्र के समस्त डीजे संचालकों की जमकर क्लास ली और वहीं इन संचालकों का कहा  कि अभी प्रदेश के समस्त क्षेत्रो में  दसवीं-बारहवीं कक्षा की परीक्षा शुरू हुई है। जिसमें हमें खासतौर पर डीजे के साथ साथ अधिक लाउडस्पीकर बजाने वाले यंत्रों पर  प्रतिबंध  लगाना जरूरी है क्योंकि इन सब से छात्र छात्राओं को परीक्षा की तैयारी करने में परेशानी होती है। इसलिए आगामी आदेश तक  इन सब  पर रोक लगाई जा रही है।

बिना इजाजत बजा डीजे तो जाओगे जेल और भरोगे जुर्माना:सरई टीआई

थाना प्रभारी ने फरमान किया है कि सड़क पर डीजे बजा या फिर रात में लाउडस्पीकर व  अन्य ध्वनि  विस्तारक यंत्रों का शोर सुनाई पड़ा तो कार्यकम के आयोजक के साथ साथ यंत्रों के संचालक दोनों को जेल जाने के साथ साथ जुर्माना भरना पड़ सकता है। आप अपना डीजे किसी को यदि देते हैं तो उससे डीजे बजाने की अनुमति सक्षम अधिकारी से प्राप्त होने का पत्र लेने के बाद दें। डीजे देने के साथ अपन आपरेटर साथ रखें वह उसे हिदायद दें कि डीजे मानक स्तर से ऊपर ना बजाए वह समय का विशेष ध्यान रखें। साथ ही अनुमति के बाद डीजे चलाने का अनुमति मे लिखी शर्त जैसे स्कुल , अस्पताल, हास्टल,आदि स्थानों के पास डीजे   ना बजाएं । प्रतिबंध के बावजूद यदि कोई डीजे संचालक नियमों का उल्लंधन करता पाया गया तो उसके विरूद्ध ध्वनि प्रदूषण (नियम एवं नियत्रण) नियम, 2000 एवं साथ ही साथ वरिष्ठ दण्डाधिकारी के आदेशों की अवहेलना पर भारतीय दण्ड विधान की धारा 188 के तहत कार्यवाही की जाएगी। इस मौके पर डीजे संचालक  बाबा गुप्ता,दीलिप गुप्ता, मंसूरी डीजे, आदि दस की संख्या में मौजूद रहें।