ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
चारगांवप्रहलाद पंचायत में सालभर भी नही टिक पाई सीसी सड़क
August 27, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

सीसी रोड निर्माण में हुआ घटिया  स्तरहीन कार्य

छिंदवाड़ा। लाखों की लागत से निर्माणाधीन सड़क पर गुणवत्ताहीन सामग्री का उपयोग किया जा रहा है।यहां सरपंच व सचिव के मनमाने रवैये के चलते ग्रामीणों में आक्रोश बढ़ने लगा है.छिंदवाड़ा  ब्लाक अंतर्गत ग्राम पंचायत चारगांवप्रहलाद लाख बीते एक वर्ष पूर्व सीसी रोड का निर्माण किया गया है। जिसमें चिल्फी युक्त गिट्टी व मिट्टी युक्त रेती का इस्तेमाल किया जा रहा है। सीसी रोड में सीमेंट नाम मात्र का डाला जा रहा है। सड़क निर्माण एजेन्सी ग्राम पंचायत सरपंच-सचिव द्वारा घटिया सीमेंट मटेरियल का उपयोग कर निर्माण कराया जा रहा है। इस्टीमेट के अनुरूप उधा क्वालिटी की सीमेंट का उपयोग सड़क निर्माण में किया जाना चाहिए, मगर यहां इंजीनियर व तकनीकी सहायकों की अनुपस्थिति में सड़क निर्माण कराया जा रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि स्तरहीन निर्माण कार्य होने के चलते सड़क एक वर्ष  में ही उखड़ गई। सड़क निर्माण कार्य में मजदूरी करने वाले मजदूरों को सरपंच के द्वारा  सीसी रोड का काम किया गया.कमीशनखोरी के खेल में यहा पर न इंजीनियर की पूरी मिलीभगत का खेल सामने आया.

स्टीमेट के अनुरूप नहीं हो रहा काम

ग्रामीणों का आरोप है कि सरपंच-सचिव द्वारा स्तरहीन सामानों का उपयोग किया गया. है। साथ ही शासन के गाइडलाइन के विपरीत कार्य किया रहा है। सरपंच -सचिव द्वारा स्टीमेट को दरकिनार कर घटिया क्वालिटी के मटेरियल उपयोग किया है। स्टीमेट के अनुसार रोड की मोटाई 6 से 8 इन्च होना है, मगर केवल 3 से 4 इंच की ही ढलाई कर सड़क निर्माण कराया गया है। घटिया सीसी सड़क निर्माण होने के चलते साल भर में ही सड़क जर्जर हो गई। सीसी रोड निर्माण को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है। ग्रामीणों का कहना है कि इसकी शिकायत उधााधिकारियों से की जाएगी।लेकिन किसी प्रकार कोई कार्यवाही नही हुई.


शासन के मापदंडों के विपरीत हुआ कार्य

उक्त सीसी रोड निर्माण कार्य में सड़क की गुणवत्ता को दरकिनार करते हुए मनमाने ढंग से निर्माण कराया जा रहा है। सड़क निर्माण में दाब गुणवत्ता लाने के लिए वाइब्रेटर का उपयोग करना जरूरी होता है जिससे सड़क में मजबूती आती है और वह लंबे समय तक टिकती है। पर इसके अनदेखी की जा रही है। शासन की गाइड लाइन के अनुसार किसी भी शासकीय कार्य को प्रारंभ करने से पहले वहां एक बोर्ड लगाना अनिवार्य है जिसमें उसकी लागत, कार्य प्रारंभ व समाप्ति दिवस, मद, संबंधित इंजीनियर का नाम मोबाइल नंबर आदि का उल्लेख करना होता है पर सरपंच ने बिना बोर्ड लगाए ही कार्य प्रारंभ कर दिया है

इनका कहन है :-

यह मेरे कार्यकाल का नही है,मुझे यहा अभी बमुश्किल से कुछ माह हुए है.

दिनेश बैंस
इंजीनियर,छिंदवाड़ा

 

आप इस बारे में उपयंत्री दिनेश बैंस से चर्चा कीजिए वह आपको पूरी जानकारी दे देंगे.

दिलीप नुनहारिया,खंड पंचायत अधिकारी छिंदवाड़ा