ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
डीजल का दाम बढ़ने से माल ढुलाई का किराया 12 प्रतिशत तक बढ़ा
June 26, 2020 • Admin • राष्ट्रीय

दिल्लीदेश के इतिहास में पहली बार डीजल (diesel) की कीमत पैट्रोल (petrol) से ज्यादा हो गई है। इससे आम लोगों की जेब पर महंगाई का बोझ बढ़ने की आशंका है क्योंकि डीजल की कीमत बढ़ने से सड़क मार्ग से माल ढुलाई का किराया 12 प्रतिशत तक बढ़ गया है। 
तेल विपणन कम्पनियों ने डीजल की कीमत में आज लगातार 18वें दिन बढ़ौतरी की जबकि 17 दिन बाद पैट्रोल के दाम स्थिर रहे। इससे राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में डीजल की कीमत पैट्रोल से अधिक हो गई है। देश के इतिहास में यह पहली बार है जब किसी भी राज्य में पैट्रोल से महंगा डीजल अधिक रहा है। दिल्ली में पैट्रोल की कीमत 79.76 रुपए प्रति लीटर पर स्थिर रही जो 28 अक्तूबर 2018 के बाद का उच्चतम स्तर है। वहीं डीजल का मूल्य 48 पैसे बढ़कर 79.88 रुपए प्रति लीटर के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया।
 

9 साल पहले डीजल की तुलना में 68 प्रतिशत अधिक दाम पर बिकता था पैट्रोल

करीब 9 साल पहले डीजल की तुलना में 68 प्रतिशत अधिक दाम पर पेट्रोल बिकता था। मई 2011 में दिल्ली में पैट्रोल की कीमत 63.37 रुपए और डीजल की कीमत 37.75 रुपए थी। जब अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट थी उस समय तेल विपणन कम्पनियों ने 12 सप्ताह तक कीमतों की समीक्षा नहीं की थी। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत एक बार फिर 40 डॉलर के आसपास पहुंचने के बाद उन्होंने पेट्रोल-डीजल के दाम की दैनिक समीक्षा 7 जून से दोबारा शुरू की। पिछले 17 दिन में दिल्ली में पैट्रोल 8.50 रुपए यानी 11.93 प्रतिशत महंगा हुआ। लगातार 18 दिन में डीजल की कीमत 10.49 रुपए यानी 15.12 प्रतिशत बढ़ाई गई है। पेट्रोल और डीजल की बेतहाशा मूल्यवृद्धि के खिलाफ 24 जून को कांग्रेस पार्टी ने विरोध प्रदर्शन किया था।
 

ग्राहकों पर पड़ेगा बोझ

इंडियन फाऊंडेशन ऑफ ट्रांसपोर्ट रिसर्च एंड ट्रेनिंग के वरिष्ठ फेलो एवं संयोजक एस.पी. सिंह ने बताया कि डीजल का दाम बढ़ने से इस महीने ट्रकों से माल ढुलाई का किराया 10 12 प्रतिशत तक बढ़ गया है। उन्होंने बताया कि कारखाने खुल गए हैं और माल की आमद बढ़ गई व्यापारी भी माल दलाई के बढ़े किराए के लिए तैयार हैं। वे इसका बोझ ग्राहकों पर डाल रहे हैं। इसका असर रोजमर्रा के सामान तथा अन्य उत्पादों की कीमतों पर देखने को मिलेगा।

ईंधन की कीमत में दो-तिहाई हिस्सा कर तथा शुल्क

खास बात यह है कि पेट्रोल डीजल ईंधन की कीमत में दो-तिहाई हिस्सा कर तथा शुल्क है। इंडियन ऑयल के अनुसार दिल्ली में पैट्रोल का रेट 16 जून को 76.73 रुपए प्रति लीटर था। डीलर को पैट्रोल 22.44 रुपए प्रति लीटर पर मिल रहा था। डीलर का कमीशन 3.60 रुपए था। शेष 50.69 रुपए कर एवं शुल्क था। हर लीटर पर केन्द्र सरकार को उत्पाद शुल्क के रूप में 32.98 रुपए और राज्य सरकार के मूल्य वर्धित कर (वैट) के रूप में 17.71 रुपए मिल रहे थे। इसी प्रकार 16 जून को डीजल की कीमत 75.19 रुपए प्रति लीटर थी जिसमें उत्पाद शुल्क 31.83 रुपए और वैट 17.60 रुपए था। डीलर तक 23.23 रुपए में डीजल पहुंच रहा था और उसका कमीशन 2.53 रुपए प्रति लीटर था। कोलकाता, मुम्बई और चेन्नई में भी आज पैट्रोल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ। डीजल का रेट कोलकाता में 43 पैसे महंगा होकर 75.06 रुपए, मुम्बई में 46 पैसे बढ़कर 78.22 रुपए और चेन्नई में 39 पैसे की बढ़ोतरी के साथ 77.17 रुपए प्रति लीटर बिका।
 
साभार- ASE News