ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
डेंगू-मलेरिया से बचाव के लिये जागरूकता अभियान आरम्भ
June 11, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

घर – घर दिया जा रहा है जागरूकता का संदेश भोपाल । जिले में डेंगू-मलेरिया की रोकथाम और बचाव के लिये जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है । इसके तहत शिक्षा, स्वास्थ्य , मलेरिया, नगर निगम , महिला बाल विकास अपने मैदानी अमले से घर घर जाकर जागरूकता फैला रहे हैं। जनस्वास्थ्य और स्वच्छता का संदेश लिए जिले में मलेरिया रथ सतत भ्रमण करते हुए जागरूकता फैला रहा है । कोलार,शाहपुरा, भदभदा रोड, नीलबढ़, रातीबढ़, टी टी नगर, लालघाटी, कोहेफिजा, बैरसिया, फंदा, लालघाटी आदि क्षेत्रों में मलेरिया रोधी कार्यशाला आयोजित की जा रही है। कार्यशाला में प्रशिक्षित स्वास्थ कार्यकर्ता घर घर जाकर लार्वा सर्वे कर रही है और डेंगू मलेरिया से बचाव और रोकथाम के प्रति आमजनों को जागरूक कर रही है। स्कूली बच्चें अपने घर में और मोहल्ले में जनस्वास्थ्य की दिशा में अपनी अहम भागीदारी निभा रहे है । स्कूली बच्चों को शिक्षा विभाग द्वारा संचालित ऑनलाइन क्लासेस के माध्यम से डेंगू मलेरिया के संबंध में जानकारी दी जा रही है । साथ ही होमवर्क और एक्सरसाइज के माध्यम से उन्हें अपने घर और आसपास स्वच्छता और सफाई रखने के लिए जागरूक करने के लिए भी कहा जा रहा है । स्वच्छता दूत बने यह बच्चे अपने घर की छत, गमले, मटके, टायर, कूलर, पानी की टंकी आदि में 7 दिन से अधिक जमे हुए पानी को साफ कर रहे हैं । उसमें मिट्टी का तेल या खाने के तेल के दो-तीन चम्मच तेल पानी में डाल रहे है । आपने अपनी पानी की टंकी साफ करी या नहीं? देखिए कहीं कूलर, गमले, टायर आदि में पानी तो नहीं जमा है। मलेरिया या डेंगू की बीमारी से बचने के लिए हमें 7 दिन से अधिक किसी भी जगह पानी का जमाव नहीं होने देना है। मास्क लगाए सोशल डिस्टेंसिंग के नियमो का पालन करे। यह संदेश महिला बाल विकास की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता आशा और एएनएम के द्वारा घर घर जाकर दिया जा रहा है। संभागायुक्त कवीन्द्र कियावत के निर्देश अनुसार यह घर घर जाकर डेंगू मलेरिया, कोरोना से बचाव, नवजात और वृद्धजनों के स्वास्थ, टीकाकरण, गर्भावस्था पंजीकरण के प्रति लोगों को जागरूक कर रही है। संभागायुक्त श्री कियावत ने बताया मलेरिया डेंगू चिकनगुनिया जैसे वेक्टर जनित रोग का प्रकोप बारिश के दिनों में ज्यादा होता है। शासन प्रशासन द्वारा अभियान चलाकर इसकी रोकथाम के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। जनस्वास्थ्य के इस अहम अभियान में सभी नागरिकों भी अहम जिम्मेदारी है। हमे अपने घर में और आसपास में जमे हुए पानी को इकठ्ठा नहीं होने देना है। कूलर, पक्षियों को पानी देने वाले घर के बाहर रखे बर्तन, मटके, कूलर आदि के पानी को हर हफ्ते बदले और साफ रखे।

 दवाईयों की उपलब्धता रखने के निर्देश

भोपाल संभाग के जिलों में ग्राम आरोग्य केन्द्र से लेकर जिला अस्पतालों तक में मानक अनुसार दवाईयों की उपलब्धता सुनिश्चित की जायेगी । शासकीय अस्पतालों में दवाईयों का भौतिक सत्यापन किया जायेगा । संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत ने इस संबंध में संभाग के सभी कलेक्टरों को निर्देश दिये हैं ।