ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
दुग्ध उत्पादन सितम्बर अंत तक 20 प्रतिशत बढ़ाएं*
August 28, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

विटनरी और दुग्ध संघ की संभागायुक्त द्वारा समीक्षा

 भोपाल।  सितम्बर अंत तक यदि संभाग में दुग्ध उत्पादन में 20 प्रतिशत की बढ़ौत्तरी नहीं हुई तो विटनरी और दुग्ध संघ के फील्ड अधिकारियों की वेतन वृद्धि रोकने के साथ ही अन्य अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। संभागायुक्तp कवीन्द्र कियावत गुरुवार को संभाग के विटनरी और दुग्ध संघ के अमले के साथ वर्चुअल बैठक में यह निर्देश दिए। बैठक में संयुक्त आयुक्त श्री अनिल द्विवेदी, दुग्ध संघ के सीईओ डॉ.के.के.सक्सेना और संयुक्त संचालक विटनरी डॉ. ओ.पी. ओड उपस्थित थे। 

 श्री कियावत ने निर्देश दिए है कि पशु पालन अधिकारी पशु पालकों के बीच दुग्ध संघ के अमले के साथ लीड करें और 15 दिवस में सुनिश्चित करें कि दुग्ध समितियों के शत-प्रतिशत सदस्यों को किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध हो जाएं। उन्होंने कहा कि राज्य शासन की प्राथमिकता किसानों की आय में इजाफा करना है। श्री कियावत ने निर्देश दिए कि समितियों के निष्क्रिय सदस्यों को सक्रिय करने के लिए उनके बीच जाकर उनकी समस्याओं का पता लगायें और हर संभव मदद कर उन्हें दुग्ध उत्पादन बढ़ाने के लिए तैयार करें। 
 संभागायुक्त ने दुग्ध उत्पादक सदस्यो के बैंक में शत-प्रतिशत खाता खुलवाने और भुगतान भी बैंक खातों में करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि खाताधारकों को एटीएम कार्ड भी उपलब्ध कराये जाएं। श्री कियावत ने निर्देश दिए कि सदस्यों के सोसायटी में आ रहे दूध का नियमित आंकलन कर पता लगायें कि पशुओं के मान से दूध उत्पादन ठीक हो रहा है या नहीं यदि उत्पादन कम है तो कारण पता करें और पशुओं के उपचार के साथ ही उनकी खुराक आदि बढ़़ाये जाने की सलाह दें। 

 श्री कियावत ने इस दौरान गौ-शाला निर्माण और गौशालाओं में पशुओं की समीक्षा भी की। उन्होंने कहा कि सभी गौशालाओं में व्यवस्थित रूप से गौवंश रखा जाए। उन्होंने सभी पशु औषधालयों का राजस्व रिकार्ड में प्रविष्टि कराने के निर्देश भी दिए। उन्होंने उत्पादन बढ़ाने के साथ ही मार्केटिंग पर भी फोकस करने के लिए तत्काल नगरीय निकायों और बड़े गांवों में बूथ के लिए स्थान चिंहित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कलेक्टर को प्रस्ताव भेजकर 36 स्कायर फीट के बूथ की स्थापना कराएं। उन्होंने सुदाना पशु आहार का विक्रय और उपयोग बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। 

संभाग में दुग्ध उत्पादन क्षेत्र का विस्तार किया जाएगा
श्री कियावत ने दुग्ध संघ और संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि संभाग में दुग्ध उत्पादन क्षेत्र का और अधिक विस्तार किया जाए। लक्ष्य के अनुरूप दुग्ध उत्पादन को बढ़ाया जाए जिससे दुग्ध पालकों एवं समितियों को और अधिक सशक्त बनाया जाए। वर्तमान में संभाग में 3.3 लाख लीटर प्रतिदिन उत्पादन किया जा रहा है जिसे बढ़ाकर 4.5 लाख लीटर प्रतिदिन बढ़ाया जाए। उन्होंने दुग्ध संघ समितियों की समीक्षा के दौरान कहा कि दुग्ध संघ, सहकारिता और वेटनरी विभाग के अधिकारी संयुक्त दल बनाकर जमीनी स्तर पर पशुओं का शत-प्रतिशत टीकाकरण, स्वास्थ्य परीक्षण सहित दुधारू पशुओं में दुग्ध उत्पादन वृद्धि के लिए मुहिम चलायें।