ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
एल एंड टी कंस्ट्रक्शन ने हेल्थकेयर यूनिट्स को कोविड-19 केयर फैसिलिटीज में बदला
June 5, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

मुंबई। एल एंड टी कंस्ट्रक्शन के बिल्डिंग एंड फैक्?ट्रीज बिजनेस ने पूरे भारत में अपने स्थापित या निर्माणाधीन हेल्थकेयर यूनिट्स को कोविड-19 केयर फैसिलिटीज में बदल दिया है। लार्सेन एंड टुब्रो की विनिर्माण शाखा ने अपने उद्देश्योन्मुखी व फास्ट-ट्रैक एप्रोच के साथ नई दिल्ली, बिहार के चंपारण व मधेपुरा, पुडुचेरी, पश्चिम बंगाल के डायमंड हार्बर और उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के व्यापक हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर को कोविड-19 केयर फैसिलिटीज में बदल दिया। कंपनी के पास तीन से चार महीने के रिकॉर्ड समय के भीतर 300 बेड वाले अस्पताल बनाने की क्षमता मौजूद है। यह मौजूदा या निर्माणाधीन मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर को कोविड- 19 फैसिलिटीज में तुरंत बदल देने और मैरिज हॉल्स, स्कूल्स, होटल रूम्स जैसी बड़ी अवस्थापनाओं को शीघ्र आइसोलेशन वार्ड्स में परिवर्तित कर देने में सक्षम है। इस बारे में, एम वी सतीश, पूर्णकालिक निदेशक और वरिष्ठ कार्यकारी प्रेसिडेंट, एल एंड टी ने कहा कि हमारे पास उत्कृष्ट इंजीनियरिंग एवं विनिर्माण क्षमताएं मौजूद हैं, जिससे हम कोविड-19 के हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर तेजी से तैयार करने में सक्षम हैं। कोविड-19 से भारत की इस लड़ाई में लार्सेन एंड टुब्रो की ओर से यह एक अन्य महत्वपूर्ण योगदान है, चूंकि कंपनी हर मुश्किल व बाधा के समय में राष्ट्र की सेवा करने में विश्वास करती है। हम अतिमहत्वपूर्ण हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर के जरिए लोगों को तुरंत राहत प्रदान करने में सरकारों की सहायता करने हेतु अपने प्रयासों को लगातार बढ़ाते रहेंगे। श्री सतीश ने आगे बताया कि पीएम केयर्स फंड में 150 करोड़ के अंशदान, अपने विभिन्न कार्यस्थलों पर 160,000 से अधिक कामगारों के कल्याण का ख्याल रखने और विभिन्न राज्य सरकारों को नकदी व अन्य तरीकों से सहयोग करने के अलावा, एल एंड टी ने 40 करोड़ मूल्य की चिकित्सा सहायता भी प्रदान की है, जैसे पीपीई, एन95 मास्क, डायग्नॉस्टिक किट्स और अन्य चिकित्सा उपकरण। हमारी अस्पताल बिजनेस यूनिट इस महामारी के दौरान अत्यावश्यक हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण करने में अनेक सरकारी प्राधिकरणों का सहयोग कर रही है। कंपनी द्वारा सफदरजंग अस्पताल नई दिल्ली, इंदिरा गांधी हॉस्पिटल नई दिल्ली,गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल चंपारण बिहार,गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल मधेपुरा बिहार,जिपमेर, फेज-3 पुडुचेरी, वेस्ट बंगाल मेडिकल कॉलेज डायमंड हार्बर पश्चिम बंगाल,एम्स गोरखपुर, उत्तर प्रदेश हेल्थकेयर फैसिलिटीज को रूपांतरित किया जा रहा है।