ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
एमवे ने अपने डायरेक्ट सेलर्स और उनके उपभोक्ताओं के लिए  डिजिटल क्षमताओं को बढ़ाया
November 4, 2020 • Admin • राष्ट्रीय

 

भारत में डिजिटल बदलाव को बढ़ावा देने के लिए 150 करोड़ रुपए निर्धारित किए

मुंबई । देश की अग्रणी एफएमसीजी डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों में से एक एमवे इंडिया ने एक डिजिटल बदलाव की यात्रा शुरू की है। कुछ सबसे बड़े वैश्विक रुझानों के साथ एमवे की बहु-वर्षीय विकास रणनीति में सोशल कॉमर्स (एक नेक्स्ट जेनरेशन ट्रेंड जो वाणिज्य के भविष्य को नया रूप देगा) के माध्यम से उद्यमिता को विस्तार देना शामिल है। एमवे में डिजिटल ऐसा फंक्शन है, जिसमें सबसे भारी निवेश किया गया है और अपनी डिजिटल बदलाव की यात्रा के हिस्से के रूप में कंपनी ने मैन्युफैक्चरिंग ऑटोमेशन, होम डिलीवरी को बढ़ावा देने और अपनी डिजिटल क्षमताओं को मजबूत करने के लिए भारत में 150 करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा की है। इस निवेश के साथ एमवे इंडिया का उद्देश्य अपनी पहुंच में सुधार करना और अपने डायरेक्ट सेलर्स तथा उनके उपभोक्ताओं को एक अद्वितीय यूजर अनुभव प्रदान करना है।

 

व्यापार के त्वरित डिजिटलीकरण पर टिप्पणी करते हुए एमवे इंडिया के सीईओ अंशु बुधराजा ने कहा, “एमवे की 10-वर्षीय विकास दृष्टि के एक हिस्से के रूप में हमने इस साल के शुरू में ऑफलाइन-टू-ऑनलाइन (O2O) को एकीकृत करना शुरू किया था, ताकि लक्षित परिणामों को हासिल किया जा सके। हमारे व्यापार के हाई-टच से लेकर हाई-टेक तक सुचारू रूप से परिवर्तन के लिए मौजूदा वैश्विक महामारी एक उत्प्रेरक साबित हुई है। इसने व्यवहार एवं उपभोग की नई आदतों को भी जन्म दिया है, जैसे कि खरीदारी, सामाजिक अभियान और सामाजिक समुदायों के माध्यम से जुड़ाव, जिससे हर स्तर पर निरंतर डिजिटल परिवर्तन का मार्ग प्रशस्त हुआ है। वास्तव में शोध से पता चलता है कि 18% आबादी ने पहली बार सोशल मीडिया या ऑनलाइन कम्यूनिटी से जुड़ने की कोशिश की है। एमवे में हमारे बहुत से डायरेक्ट सेलर्स ने भी जीवंत सामाजिक समुदायों का निर्माण किया है, जो अपने ऑफलाइन कनेक्शन को ऑनलाइन नेटवर्क से एकीकृत करके वर्चुअल सत्रों और ऑनलाइन परामर्शों के माध्यम से व्यक्तिगत उत्पाद अनुभव प्रदान करते हैं। यह सभी नवीन सोशल और डिजिटल टूल्स द्वारा संचालित किया जा रहा है, ताकि डायरेक्ट सेलर्स अपने उपभोक्ताओं तक कुशलता से पहुंच सकें, और डिजिटल के संदर्भ में हमारे कुल निवेशों का भारी-भरकम हिस्सा इसमें निवेशित किया गया है, साथ ही हमने अपनी वेबसाइट को भी नया रूप दिया है, जिससे ऑनलाइन शॉपिंग का अनुभव सरल और सहज हो सके। इन हालिया बदलावों के साथ हमारा उद्देश्य अपने डायरेक्ट सेलर्स और उनके उपभोक्ताओं के अनुभव को बेहतर करने के साथ ही अन्य प्लेटफॉर्मों के साथ साझेदारी करना है। हम कुशल व्यावसायिक कामकाज को सुनिश्चित करने के लिए अपनी डिजिटल क्षमताओं को बढ़ाना जारी रखेंगे।”

 

भारत सरकार की ‘डिजिटल इंडिया’ पहल के अनुरूप एमवे रणनीतिक रूप से अपनी डिजिटल क्षमताओं के निर्माण और वितरकों की उत्पादकता बढ़ाने, ग्राहक जुड़ाव एवं उत्पाद तक पहुंच में सुधार के लिए अपनी ऑनलाइन उपस्थिति को मजबूत करने में निवेश कर रहा है। वैश्विक मजबूत रुझान की लहर पर सवार एमवे भारत सहित विश्व स्तर पर ऑफलाइन-टू-ऑनलाइन (O2O) को एकीकृत करने की प्रक्रिया में है, ताकि अपने डायरेक्ट सेलर्स को समुदायों का निर्माण करने के लिए डिजिटल रूप से सहायता और सक्षमता प्रदान की जा सके, जिससे कि उनके लिए एडवेंचर, फिटनेस, सौंदर्य या भोजन पकाने जैसे अपने शौकों को पूरा करते हुए सोशल प्लेटफॉर्म्स पर अपने व्यवसाय का निर्माण करने के अवसर खोले जा सकें।

 

हालिया डिजिटल पहलों पर टिप्पणी करते हुए एमवे की हैड ऑफ डिजिटल स्ट्रेटजी एंड इनोवेशन प्रिया डार ने कहा, “O2O - ऑनलाइन से ऑफलाइन एमवे इंडिया के लिए सभी डिजिटल पहलों का लक्ष्य है और हम अपनी बिक्री गतिविधियों का अधिकांश हिस्सा डिजिटल होते देखना चाहते हैं। भारत के एक मोबाइल-फर्स्ट मार्केट बनने के साथ सोशल प्लेटफॉर्म्स शक्तिशाली खोज में बदल गए हैं और इस अवसर का लाभ उठाते हुए हमने हाल ही में अपने डायरेक्ट सेलर्स के लिए ऑनलाइन खरीदारी को गति प्रदान करने के लिए एक मोबाइल ऐप लॉन्च किया है। यह ऐप डायरेक्ट सेलर्स को खरीद अनुभव प्रदान करने के साथ-साथ उनके व्यवसाय में दृश्यता को सक्षम बनाता है और केवल 30 दिनों में ही 100,000 से अधिक डाउनलोड के साथ इस ऐप को जबर्दस्त समर्थन भी मिला है। हमने हाल ही में अपना चैटबॉट "मायरा" भी लॉन्च किया है, जो डायरेक्ट सेलर्स और ग्राहकों के प्रश्नों का संज्ञान लेने के लिए एक 24 * 7 वर्चुअल असिस्टैंट है। ये डिजिटल पहल एमवे इंडिया के ऑफलाइन टू ऑनलाइन बदलाव का एक हिस्सा हैं, जो अपनी बिक्री के एक बड़े हिस्से को अपने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर स्थानांतरित करने के हमारे लक्ष्य से जुड़ी हैं। आगे बढ़ते हुए आने वाले समय में हम और अधिक अनुभवात्मक पहल शुरू करना चाहते हैं, जो ग्राहकों को हमारे साथ जुड़ने और उन्हें अपनी खरीद ज्यादा तेजी से करने को और आसान बनाएंगी।”

 

हाल ही में एमवे ने ऑनलाइन ट्रेनिंग मॉड्यूल्स के जरिये निरंतर जुड़ाव के माध्यम से अपने डायरेक्ट सेलर्स को लगातार आगे बढ़ाने के लिए कई उपाय किए हैं। संगठन ने पिछले कुछ महीनों में विभिन्न क्षेत्रों में 6000 से अधिक ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए हैं, जिनके अंतर्गत 9 लाख से अधिक डायरेक्ट सेलर्स और उपभोक्ताओं तक पहुंच बनाई गई है, और इस तरह के प्रभावशाली प्रशिक्षण सत्र और ज्यादा बनाने के लिए संगठन स्थानीय तथा वैश्विक प्रशिक्षण भागीदारों के साथ भी काम कर रहा है। वैश्विक मजबूत रुझान का तन्मयता से अनुसरण करते हुए एमवे डिजिटल परिवर्तन के माध्यम से भारत में मजबूत विकास की दिशा में अपना मार्ग प्रशस्त कर रहा है।