ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
ग्रामीणों को शहर पहुंचाने का जिम्मा अब ग्रामीण महिलाओं को
September 11, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

    भोपाल । अब ग्रामीण महिलाये गांव वालों को आवागमन के लिए वाहन सुविधा भी उपलब्ध कराएंगी  यह अद्भुत मुहिम जल्द ही परवान चढ़ेगी।
ग्रामीण विकास विभाग के श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूरल मिशन यानि एस.पी.एम.आर.एम मेें  "आत्मा गाँव की, सुविधायें शहर की ”* अवधारणा को ध्यान में रखते हुई यह पहल की गयी है जिसका उद्देश्य चयनित क्षेत्र मे आर्थिक विकास को प्रोत्साहन देना, आधारभूत सेवाओं में वृद्धि करना और सुव्यवस्थित रुर्बन संकुलों का सृजन करना है । चयनित ग्रामों में ग्रामीणो को आवागमन की सुविधा प्रदान करने के लिए राज्य आजीविका मिशन के अंतर्गत गठित महिलाओं के संकुल स्तरीय संगठन को 5 वाहन क्रय करने हेतु राशि प्रदाय करने का निर्णय लिया गया है। जिसके तहत  सार्वजनिक वाहन का विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन (डी.पी.आर.) प्रस्ताव तैयार कर अनुमोदन हेतु राज्य स्तर पर प्रेषित किया गया है। प्रस्ताव अनुसार रातीबड़ संकुल में 02 रूट एवं गुनगा संकुल में 03 रूट का निर्धारण किया गया है।
 जिले में गुनगा एवं रातीबड़ संकुल में 13-13 ग्राम पंचायतों अंतर्गत क्रमशः 20 एवं 33 ग्राम आते हैं। गुनगा एवं रातीबड़ संकुल में सार्वजनिक परिवहन घटक एक महत्वपूर्ण घटक है। रुर्बन क्षेत्र के इन ग्रामों में ग्रामीणों को शहर के नजदीक होने के बावजूद भी 5-7 किलोमीटर या उससे अधिक पैदल चलकर मुख्य मार्ग तक आना पड़ता है। विशेष रूप से महिलाओं एवं विद्यर्थियों के पास अपने निजी वाहन की सुविधा न होने के कारण गाँव से बाहर जाने के लिए बहुत कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है एवं दूसरों पर आश्रित रहना पड़ता है। वर्तमान में निजी संस्थानों या व्यक्ति विशेष द्वारा जो यात्री वाहन ग्रामीणों की सुविधाओं हेतु  चलाये जा रहे हैं वह सुविधाएं अपर्याप्त होने के कारण यह पहल की गई है।
सार्वजनिक परिवहन घटक अंतर्गत रातीबड़ संकुल में रूट आँवला से रातीबड़-समसगढ़- सरवर- अमरपुरा- भानपुर केकड़िया एवं बरखेड़ी बाजयाफ्त होते हुए एवं अन्य रूट कलखेड़ा से सिकंदराबाद कलखेड़ा-नीलबढ़ चौराहा- बरखेड़ा नाथू- माली खेड़ी- सिकंदराबाद- भदभदा रोड में सार्वजनिक वाहन की सुविधा प्रदान करने हेतु 1-1 टाटा मैजिक की राशि संकल स्तरीय संगठन को प्रदाय करने का प्रावधान किया गया है। इसी प्रकार गुनगा संकुल में रूट दुपाडिया से जूनापानी, हरखेड़ा से धमरी एव जेतपुरा जोड़ से खादमपुर में सार्वजनिक वाहन की सुविधा प्रदान करने हेतु 1 टाटा मैजिक तथा 2 टाटाविंगर की राशि संकल स्तरीय संगठन को प्रदाय करने का प्रावधान किया जा रहा है। वाहनों का संचालन संकुल स्तरीय संगठन की महिला सदस्यों द्वारा किया जाएगा। वाहनों में चालक एवं परिचालक, हेतु महिलाओं को प्राथमिकता दी जायेगी । उक्त कार्य हेतु उन्हें प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा। प्रस्ताव अनुमोदन उपरांत रुर्बन क्षेत्र मे योजना के क्रियान्वयन होने से न केवल ग्रामीणों को आवागमन की सुविधा प्राप्त होगी, बल्कि संकुल स्तरीय संगठन की महिला सदस्यों जो यात्री वाहन का क्रियान्वयन करेंगी को अतरिक्त आजीविका का स्त्रोत प्राप्त होगा एवं सशक्त होंगी ।