ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
गृह मंत्री के मुख्‍य आतिथ्‍य में उप पुलिस अधीक्षकों का भव्‍य दीक्षांत समारोह आयोजित
February 15, 2020 • Vijay sharma

देशभक्ति के जज्‍बे के साथ निकली दीक्षांत परेड ने किया रोमांचित,

बेहतर पुलिसिंग कर मध्‍यप्रदेश की तरक्‍की में सहभागी बनें: बाला बच्‍चन

भोपाल, । स्‍वाभिमान से ऊँचा मस्‍तक, अनुशासित कदम, अदम्य साहस से भरा सीना और देशभक्ति के जज्‍बे के साथ जब आर्कषक दीक्षांत परेड आगे बढ़ी तो सभी रोमांचित हो गए। मौका था मध्‍यप्रदेश पुलिस अकादमी भौंरी के परेड मैदान में मध्‍यप्रदेश पुलिस के 41 वे बैच के उप पुलिस अधीक्षकों के भव्‍य दीक्षांत समारोह का। प्रदेश के गृह मंत्री श्री बाला बच्‍चन ने बतौर मुख्‍य अतिथि दीक्षांत परेड की सलामी ली और खुली जिप्‍सी में सवार होकर परेड का निरीक्षण किया। पुलिस महानिदेशक श्री विजय कुमार सिंह की मौजूदगी में आयोजित हुए दीक्षांत परेड समारोह के बाद परिवीक्षाधीन 37 उप पुलिस अधीक्षक विधिवत रूप से मध्‍यप्रदेश पुलिस की मुख्‍य धारा में शामिल हो गए। इनमें 17 महिला उप पुलिस अधीक्षक शामिल हैं।

     गृह मंत्री  बाला बच्‍चन ने सभी प्रशिक्षु पुलिस अधिकारियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। उन्‍होंने कहा दीक्षांत परेड में प्रशिक्षु पुलिस अधिकारियों के जोश व जज्‍बे को देखकर हमें भरोसा हो गया है कि आप सब सरकार की उम्‍मीदों पर खरे उतरेंगे और जनता को बेहतर से बेहतर सेवाएँ देने में सफल होंगे। साथ ही प्रशिक्षु पुलिस अधिकारियों का आह्वान किया कि बेहतर पुलिसिंग कर मध्‍यप्रदेश पुलिस का नाम रोशन करें और मध्‍यप्रदेश की तरक्‍की में सहभागी बनें।    बाला बच्‍चन ने कहा प्रदेश सरकार द्वारा मुख्‍यमंत्री की पहल पर माफियों एवं आपराधिक तत्‍वों के खिलाफ प्रदेशव्‍यापी अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान से जनता का सरकार के प्रति भरोसा बढ़ा है। गृह मंत्री ने इस अवसर पर जानकारी दी कि उप पुलिस अधीक्षकों के पिछले बैच की फील्‍ड पदस्‍थापना की जा चुकी है।

शनिवार की सुबह गुलाबी सर्दी के साथ निकली  तेज चमकदार धूप और पुलिस ब्रास व पाइप बैंड की मधुर धुन के बीच निकली दीक्षांत परेड में पुरुषों के साथ-साथ महिला उप पुलिस अधीक्षकों का जज्‍बा और जुनून देखते ही बन रहा था। दीक्षांत परेड का नेतृत्‍व उप पुलिस अधीक्षक सुश्री भावना दांगी ने किया। परेड टू आई सी की भूमिका श्री गौरव पाटिल ने निभाई।मध्‍यप्रदेश पुलिस प्रशिक्षण अकादमी  में एक वर्ष के कठिन प्रशिक्षण में तपकर निकले कुल 37 उप पुलिस अधीक्षकों ने दीक्षांत परेड में हिस्सा लिया। राष्‍ट्रीय ध्‍वज तिरंगे को साक्षी मानकर ली गई देश भक्ति व राष्‍ट्र सेवा की शपथ और दीक्षांत परेड के बाद ये सभी उप पुलिस अधीक्षक मध्‍यप्रदेश पुलिस का हिस्‍सा बन गए। मध्‍यप्रदेश पुलिस अकादमी के पुलिस अधीक्षक  संजय सिंह ने सभी प्रशिक्षुओं को से शपथ दिलाई।

आरंभ में जब मध्‍यप्रदेश पुलिस का ध्‍वज लेकर निशान टोली गुजरी तो सभी ने खड़े होकर सैल्‍यूट किया। इसी तरह दीक्षांत परेड का भी करतल ध्‍वनि के साथ स्‍वागत किया गया। मध्‍यप्रदेश पुलिस अकादमी के प्रमुख  के.टी.वाईफे ने प्रशिक्षण का प्रतिवेदन प्रस्‍तुत किया।अंत में मुख्‍य अतिथि ने प्रशिक्षण में उत्कृष्ट रहे प्रशिक्षु पुलिस अधिकारियों को शील्ड व प्रशस्ति पत्र भेंट कर सम्मानित किया। उन्‍होंने केन्‍द्रीय गृह मंत्री के पदक से सम्‍मानित पुलिस अधिकारियों को भी सम्‍मान पदक सौंपे।

समारोह में इनकी भी रही मौजूदगी

अतिरिक्‍त पुलिस महानिदेशक प्रशिक्षण अनुराधा शंकर, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक कल्याण  विजय कटारिया, पुलिस प्रशिक्षण अकादमी के निदेशक के टी  वाईफे  , अतरिक्त पुलिस महानिदेशक भोपाल जोन  आदर्श कटियार व पुलिस महानिरीक्षक अपराध अनुसंधान विभाग मकरंद देउस्कर सहित अन्‍य वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी गरिमामयी दीक्षांत समारोह के साक्षी बने। साथ ही प्रशिक्षु पुलिस अधिकारियों के परिजन भी उत्‍साहवर्धन के लिए पहुंचे थे। कार्यक्रम का संचालन मदन मोहन समर  व रजनी तिवारी ने किया।

इन श्रेष्‍ठ प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षकों को मिले पुरस्‍कार

मुख्‍य अतिथि ने सर्वश्रेष्‍ठ प्रशिक्षु अधिकारी का पुरस्‍कार संयुक्‍त रूप से सुश्री अंजलि रघुवंशी व सुश्री पूनम थापा को प्रदान किया। श्रेष्‍ठ आउटडोर प्रशिक्षण के लिए  कुंदन मंडलोई को प्रथम व  पकंज मिश्रा को द्वितीय एवं  राहुल कटारे को तृतीय स्‍थान की शील्‍ड व प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। इनके अलावा परेड कमांडर सुश्री भावना दांगी व परेड टूआईसी  गौरव पाटिल को भी प्रथक से सम्‍मानित किया गया।

इन्‍हें यूनियन मिले यूनियन होम मिनिस्‍टर पदक अतिरिक्‍त पुलिस महानिदेशक  वरूण कपूर, अतिरि‍क्‍त पुलिस अधीक्षक  मनीषा पाठक सोनी, उप पुलिस अधीक्षक प्रशिक्षण डॉ. लक्ष्‍मी कुशवाह, उपनिरीक्षक गुड्डू बाबू जाधव व अशोक कोले प्रधान आरक्षक श्री रूपचंद भैरव व कमलेश कुमार तिवारी।