ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
हर्बलाइफ न्यूट्रीशन ने महिलाओं और बच्चों के लिए 'बिल्ड इट बेटर' प्रोग्राम शुरू करने के लिए संभव फाउंडेशन के साथ साझेदारी की
September 27, 2020 • Admin

इस स्वास्थ्यसेवा जागरूकता कार्यक्रम का उद्देश्य कोयम्बटूर, मैंगलोर, इंदौर, गुवाहाटी, मुजफ्फरपुर और पटना में जरूरतमंद लड़कियों और महिलाओं तक पहुंचना है
• प्रत्येक शहर में हजारों लड़कियों  और महिलाओं को सैनेटरी पैड दिए जाएंगे


भारत ।  वैश्विक न्यूट्रीशन कंपनी हर्बलाइफ न्यूट्रीशन ने आज महिलाओं और बच्चों के लिए "बिल्ड इट बेटर" कार्यक्रम को सहयोग करने के लिए संभव फाउंडेशन के साथ साझेदारी की घोषणा की। यह  कार्यक्रम अगले 10 महीनों में देश के छह शहरों कोयंबटूर, मैंगलोर, इंदौर, गुवाहाटी, मुजफ्फरपुर और पटना में चलाया जाएगा। इस पहल का लक्ष्‍य इंटरैक्टिव सत्रों के जरिए लड़कियों व महिलाओं के बीच पोषण और मासिक धर्म संबंधी स्वच्छता, मातृ स्वास्थ्य देखभाल और चाइल्डकेयर के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाना है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य छठी कक्षा से 1650 किशोरियों और प्रत्येक शहर में 500 महिलाओं तक पहुंचना है। हर सत्र के बाद महिलाओं और लड़कियों को सैनेटरी नैपकिन भी दी जाएंगी।
 
न्यूट्रीशन पावरहाउस के रूप में मशहूर कंपनी भारत में अपने बिज़नेस के 20वें साल में है और यह निरंतर लोगों के लिए सक्रिय रूप से योगदान देने का प्रयास कर रही है। "बिल्ड इट बेटर" पहल के जरिए किशोर लड़कियों और गर्भवती महिलाओं में कुपोषण, मातृत्व मृत्यु दर और मासिक धर्म स्वच्छता जैसी समस्याओं को संबोधित किया जाएगा। 

इस कार्यक्रम के शुभारंभ पर टिप्पणी करते हुए हर्बलाइफ न्यूट्रीशन इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट और कंट्री हेड श्री अजय खन्ना ने कहा, “बिल्‍ड इट बेटर प्रोग्राम के लिए संभव फाउंडेशन के साथ हमारा सहयोग एक प्रभावशाली सहयोग है जोकि महिलाओं और लड़कियों को प्रभावित करेगा। यह महिलाएं और लड़कियां बदलाव लाने की दमदार एजेंट हैं। वे न केवल खुद को बदल सकती हैं, बल्कि अपने परिवारों और समुदायों को भी बदल सकती हैं। यह कार्यक्रम एक निजी, सुरक्षित और सम्मानजनक तरीके से उनके स्वास्थ्य, पोषण और स्वच्छता को समझने और प्रबंधित करने के लिए उन्हें बेहतर माहौल प्रदान करेगा। हर्बलाइफ लड़कियों और महिलाओं को सशक्त बनाने में गर्व महसूस करता है और उन्हें सही स्वास्थ्य विकल्प चुनने के लिए कलंक, वर्जनाओं और अज्ञानता को तोड़ने में मदद करता है।”
 
संभव फाउंडेशन की ट्रस्टी और सीईओ श्रीमती गायत्री वासुदेवन ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे समाज में मासिक धर्म के बारे में बातचीत करना निषेध माना जाता है, खासतौर से ग्रामीण इलाकों में। हर्बलाइफ 

न्यूट्रीशन का यह प्रयास काफी सराहनीय है, जो न केवल आम लोगों को मासिक धर्म स्वच्छता के महत्व के बारे में शिक्षित करेगा, बल्कि एक व्यवहारिक बदलाव भी लाएगा। एक ऐसा बदलाव जहां जेंडर की परवाह किए बिना महिलाओं के स्वास्थ्य के इस अभिन्न पहलू पर चर्चा करना सामान्य होगा। इस बारे में शर्म करने की कोई बात नहीं है और यह रवैया व आत्मविश्वास एक चेन रिएक्‍शन के तौर पर कई जिंदगियों में बदलाव लाएगा और मासिक धर्म स्वच्छता प्रबंधन के मार्ग में आने वाली बाधा को तोड़ देगा।”
 
हर्बलाइफ न्यूट्रीशन और संभव फाउंडेशन मिलकर लड़कियों के लिए मासिक धर्म स्वच्छता प्रबंधन व पोषण संबंधी सत्र और महिलाओं के लिए पोषण, मातृ स्वास्थ्य और शिशु देखभाल पर सत्र आयोजित करेंगे। यह जागरूकता कार्यक्रम इंटरैक्टिव होगा और ग्रुप असाइनमेंट, रोल-प्ले गतिविधियों, वास्तविक-समय में सामुदायिक परियोजनाओं आदि के माध्यम से मासिक धर्म स्वच्छता और संतुलित पोषण के महत्व के बारे में शिक्षित करेगा। यह सुनिश्चित करेगाकि प्रतिभागी इस पाठ्यक्रम से समग्र महत्‍व प्राप्‍त करें।