ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
होम्योपैथी चिकित्सा के सहयोग से 80 वर्षीय वृद्धा कोरोना से जीती जंग
August 21, 2020 • Admin • स्वास्थ्य

इन्दौर। कहते हैं आत्मविश्वास सफलता की सबसे बड़ी कुंजी है। आत्मविश्वास के कुछ इसी अंदाज में भोपाल की 80 वर्षीय वृद्धा कोरोना पाॅजिटिव से संघर्ष कर जंग जीतने में सफलता हासिल की। जी हाँ बता दें कि, 80 वर्ष की महिला जिन्हें पूर्व से कई बीमारियाँ थीं, साथ में डायबिटीज भी था। घर में कई सदस्य हैं, बेटे का कोरोना टेस्ट पाॅजिटिव आने के बाद उनका भी पाॅजिटिव आ गया। घर के अन्य सदस्य घबरा गये कि इस उम्र में कहाँ भर्ती करेंगे, कैसे ठीक होंगी, उन लोगों ने आयुष मन्त्रालय भारत सरकार में वैज्ञानिक सलाहकार बोर्ड के सदस्य एवं एडवांस्ड होम्यो हेल्थ सेन्टर के संचालक डाॅ. ए.के. द्विवेदी को फोन लगाकर सारी परेशानी बतायी। डाॅ. द्विवेदी ने उन्हंे अस्पताल में भर्ती करने की सलाह दी। लेकिन वे लोग भर्ती होने के लिये सहमत नहीं हुये। फोन पर बताये लक्षणों के आधार पर डाॅ. द्विवेदी द्वारा होम्योपैथिक दवाईयाँ इन्दौर से भोपाल भेजी गयी। जिसका उन्होंने लगातार 15 दिनों तक सेवन किया। अब 15 दिन बाद कोविड टेस्ट नगेटिव आ गया है। पाॅजिटिव आने के शुरूआती दिनों में उनका आॅक्सीजन सेचुरेशन लेवल थोड़ा कम हुआ था। घर के लोग घबरा रहे थे, लेकिन होम्योपैथिक दवाईयों की खुराक एक-दो दिन बढ़ाने से आॅक्सीजन सेचुरेशन लेवल भी नाॅर्मल हो गया। अब उनकी रिपोर्ट पूरी तरह से नगेटिव आ चुकी है और वे स्वस्थ हैं। घर के अन्य सदस्यों की रिपोर्ट भी लगभग सामान्य आ चुकी है। पूरे परिवार के लोग अत्यन्त हर्ष की अनुभूति कर रहे हैं एवं डाॅ. ए.के. द्विवेदी को धन्यवाद भी ज्ञापित कर रहे हैं। 
डाॅ. ए.के. द्विवेदी कोरोना हेल्पलाईन 104 में पर कई माह से लोगों को विभिन्न प्रकार के सहयोग भी कर रहे हैं। इस परिवार को भी भोपाल में जब जाँच कराने में परेशानी महसूस हई तो कोरोना जाँच कराने में भी सहयोग किया।