ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
इंटक प्रदेशाध्यक्ष के नेत्रत्व में. सयुक्त मोर्चे का जंगी प्रदर्शन
September 24, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल । केंद्रीय ट्रेड यूनियनों की समन्वय समिति के आह्वान पर 23 सितम्बर को भेल एवं म.प्र. इंटक के अध्यक्ष आर डी त्रिपाठी के नेतृत्व में इंटक ,सीटू, एटक द्वारा भेल कर्मचारियों की ज्वलंत समस्याओ एवं पब्लिक सेक्टर के उद्योगों के निजीकरण के खिलाफ 5 नंबर फाउंड्री गेट पर विरोध प्रदर्शन किया गया। मध्य प्रदेश इंटक के अध्यक्ष आर डी त्रिपाठी  ने कहा की आज वर्तमान में पब्लिक सेक्टर के उद्योगों के हालात दिन बा दिन बिगड़ते जा रहे है।भेल कर्मचारियों के आर्थिक हितो एवं सुविधाओ में निरंतर कटौती की जा रही है।कर्मचारियों को मिलने वाली सब्सिडी को खत्म किया जा रहा है।।सरकार द्वारा कर्मचारियों को नौकरी से बाहर करने के लिए नई नई योजनाये लाई जा रही है।जिसे प्रबंधन द्वारा अमल में भी लाया जा रहा है।रोजगार के नाम पर लोगो को ठगा जा रहा है ।स्थाई रोजगार न देकर सीमित अवधि का रोजगार दिया जा रहा है।श्रम कानूनों में परिवर्तन कर मजदूरो का शोषण किया जा रहा है ।इन सभी बातो को लेकर भेल कर्मचारी  लामबंद हो रहा है।आगे आने वाले समय में भेल कर्मियो की मागो को लेकर उग्र आंदोलन किया जायेगा। इंटक अध्यक्ष ने कहा की आगे आने वाले दिन और भी गंभीर हो सकते है।आज कर्मचारियों के भविष्य पर खतरा मडरा रहा है।इन सब से निपटने के लिए हम सब को अब एकजुट होना पड़ेगा।कोरोना नामक महामारी के वाबजूद आज भारी तादात में भेल कर्मी उपस्थित होकर आंदोलन को सफल बनाया।आप सबकी ऐसी ही  एकता के कारण एक दिन भेल के समस्त कर्मियो की आर्थिक हितो की वापसी होगी। इस अवसर पर इंटक के वरिस्ट उपाध्यक्ष गौतम मोरे, कोषाध्यक्ष राजेश शुक्ला, मध्य प्रदेश यूथ इंटक अध्यक्ष मिथिलेश तिवारी, एटक से रामहर्ष पटेल एवं साथीगण, सीटू से लोकेन्द्र शेखावत एवं साथीगण इंटक से महामंत्री रायकवार जी ,सुनील महाले, सी एम साहू ,धर्मेन्द्र अवस्थी, फजल खान ,इकवाल खान, सुशील सपकाल, प्रणय सरकार, नीरज विस्वकर्मा राजदीप, कंचन कुजूर, प्रदीप मालवीया ,मनोज चौकसे, रणजीत चंद्रावत, सुरेश मेहरा, अजीत गोंड ,सतेंद्र शर्मा, बुद्धमान सिन्हा, बाबू सिंह आदि सैकड़ो कर्मचारी उपस्थित हुए।