ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
जैन फाउंडेशन पर्यूषण पर्व पर आयोजित करेगा विशेष डिजिटल कार्यक्रम
August 16, 2020 • Admin • राष्ट्रीय


जैन फाउंडेशन के एप (जिसे www.jainfoundation.in से डाउनलोड किया जा सकता है) पर 15 से 22 अगस्त 2020 तक होगा कार्यक्रम
आठों दिन दर्शन के सीधे प्रसारण से आरंभ होगा कार्यक्रम, जिसके बाद होंगे प्रवचन, भक्ति और आरती
समूचे कार्यक्रम का अदाणी शांतिग्राम जैन मंदिर से होगा सीधा प्रसारण
बेंगलूरु । जै न धर्म के सार एवं मूल्यों के प्रसार हेतु समर्पित अलाभकारी संगठन जैन फाउंडेशन ने घोषणा की है कि सबसे महत्वपूर्ण जैन पर्व पर्यूषण को मनाने के लिए वह विशेष डिजिटल कार्यक्रम आयोजित करेगा। कार्यक्रम 15 से 22 अगस्त 2020 तक द जैन फाउंडेशन के एप पर देखा जा सकता है। पर्यूषण के वार्षिक पावन पर्व पर जैन धर्मावलंबी उपवास, प्रार्थना एवं ध्यान के माध्यम से अपनी आध्यात्मिक चेतना का स्तर बढ़ा लेते हैं।
कार्यक्रम का आरंभ सुबह 7 बजे सीधे (लाइव) दर्शन से होगा, जिसके बाद सुबह 9 बजे और दोपहर 3.30 बजे सुश्रावक दीपक भाई बारदोली के प्रवचन होंगे। दर्शकों को आठों दिन रात 8.30 पर भक्ति और 9.45 पर आरती का आनंद भी प्राप्त होगा, जिनका सीधा प्रसारण अदाणी शांतिग्राम जैन मंदिर से किया जाएगा।
जैन फाउंडेशन आरके ग्रुप की परोपकारी शाखा आरके ट्रस्ट के संस्थापक रमेश कुमार शाह के दिमाग की उपज है और ऑरा के संस्थापक तथा एसपीआर कंस्ट्रक्शन्स, चेन्नई के एजीएम नील शाह ने इसकी स्थापना में सहयोग किया है। फाउंडेशन का लक्ष्य जैन धर्म के बुनियादी मूल्यों को आगे बढ़ाना तथा उन्हें वर्तमान पीढ़ी के लिए प्रासंगिक बनाना है। तीन महीने पहले अपनी स्थापना के बाद से ही जैन फाउंडेशन ने दर्शन, धर्म, परंपराओं, समर्पण, शिक्षा, कला एवं वास्तु समेत विभिन्न विषयों पर 60 से अधिक वेबिनार आयोजित किए हैं।
रमेश कुमार शाह ने इस पहल के बारे में कहा: “विश्व भर के जैन धर्मावलंबियों को पर्यूषण पर्व में हिस्सा लेने का मौका देने के लिए विशेष डिजिटल कार्यक्रम के आयोजन हेतु हम बहुत उत्साहित हैं। जैन धर्म के सार्थक गुणों और सार को भावी पीढ़ियों तक पहुंचाना ही मेरा प्रयास है। हमने सोचा कि विशेषकर कोविड-19 के इस दौर में ऐसा ऑनलाइन प्लेटफॉर्म तैयार करना एकदम ठीक होगा, जो सीखने और आत्मविकास की भावना को बढ़ावा दे।”
द जैन फाउंडेशन एप को www.jainfoundation.in पर जाकर डाउनलोड किया जा सकता है।