ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
जम्मू-कश्मीर की संस्कृति को समझेंगे मध्यप्रदेश के युवा केन्द्र शासित प्रदेश बनने के बाद श्रीनगर में जुटेंगे देशभर के 200 युवा
March 1, 2020 • Vijay sharma
भोपाल। जम्मू-कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश बनाएं जाने के बाद भारत सरकार, युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय द्वारा नेहरू युवा केंद्र संगठन के माध्यम से देशभर के युवाओं को कश्मीर की यथास्थिति, पर्यटन एवं शैक्षणिक महत्व के स्थलों की यात्रा, सांस्कृतिक वैविध्य से परिचित कराने ,शांति समरसता एवं राष्ट्रीय एकता के लिए विमर्श हेतु राष्ट्रीय एकता शिविर का आयोजन श्रीनगर में 4 मार्च से 8 मार्च तक किया जा रहा है। आयोजन हेतु भारत सरकार द्वारा विभिन्न राज्यों में नेहरू युवा केंद्र संगठन के माध्यम  यूथ लीडर, विभिन्न विधाओं में श्रेष्ठ कलाकार सहित 200 युवा सहभागिता करेंगे। जिला युवा समन्वयक डॉ सुरेंद्र शुक्ला ने बताया कि हम संगठन के आभारी हैं कि इस महत्वपूर्ण आयोजन में भोपाल के 20 युवा सहभागिता करेंगे। यह सभी युवा वहां मध्यप्रदेश की बहुरंगी संस्कृति से परिचित कराएंगे एवं इससे उनके मन में राष्ट्रीय एकता कि भावना विकसित होगी।
दल का नेतृत्व कर रहे शुभम चौहान ने बताया कि हम इस यात्रा के दौरान कश्मीरी संस्कृति, वहां के खान-पान, रहन-सहन,जीवन पद्धति एवं पर्यटन स्थलों का भ्रमण कर अध्ययन करेंगे। जब हम उन स्थानों पर जाकर भ्रमण करते हैं तो वहां कि यथास्थिति से परिचित होते। यह पहला अवसर है जब मध्यप्रदेश का 20 सदस्यीय दल इस यात्रा पर श्रीनगर जाएगा।  प्रतिभागी संजय नागर ने कहा कि वहां पर हमें एक नया अनुभव मिलेगा जिससे देश में स्थित ऐतिहासिक, सांस्कृतिक, धार्मिक, और शैक्षणिक हित के विभिन्न स्थलों की यात्रा करने का भी अवसर मिलेगा। सहभागिता करने वालों में   शुभम चौहान, हर्षा हासवानी, संजय नागर, देवेन्द्र वर्मा, राहुल तिवारी, आशुतोष मालवीय, अमृता त्रिपाठी, अर्पित खंडेलवाल,मधु प्रसाद,शिवम मिश्रा, टीकाराम लोधी,भारत सिंह, विशाल यादव, कंचन मालवीय, दीपांशी बाजपेई,साक्षी जोशी,रितिष्का, डिंपल ज्ञानचंदानी प्रमुख हैं। दल को यात्रा के लिए नेहरू युवा केंद्र संगठन मप्र के राज्य निदेशक डॉ दिनेश राय, उपनिदेशक राजेश मिश्रा, जिला युवा समन्वयक डॉ सुरेंद्र शुक्ला ने बधाई व शुभकामनाएं दी।