ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
Jaypore.com और क्रिएटिव डिग्निटी ने साथ मिलकर मध्य प्रदेश में
October 15, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

Jaypore.com और क्रिएटिव डिग्निटी ने साथ मिलकर मध्य प्रदेश में

'आर्टिज़न डायरेक्ट' अभियान का शुभारंभ किया

15 दिनों तक चलने वाला यह अभियान, मध्य प्रदेश के शिल्पकारों को ब्रांड के ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर

अपने उत्पादों की बिक्री का अवसर उपलब्ध कराएगा ~

 
भोपाल,-  जयपोर, आदित्य बिरला फैशन एंड रिटेल लिमिटेड परिवार का एक अंग है
जिसने क्रिएटिव डिग्निटी के साथ मिलकर आर्टिज़न डायरेक्ट अभियान के मध्य प्रदेश संस्करण का शुभारंभ
किया है। आर्टिज़न डायरेक्ट 15 दिनों तक चलने वाला एक अभियान है, जो शिल्पकारों को डिजिटल
माध्यमों से ग्राहकों तक पहुंचने का अवसर प्रदान करता है। ब्रांड बड़े पैमाने पर लोकप्रिय अपने ई-कॉमर्स
प्लेटफॉर्म के माध्यम से शिल्पकारों को पूरे भारत में मौजूद अपने ग्राहकों तक पहुँच का अवसर प्रदान
करेगा, जिससे उन्हें नए बाजार उपलब्ध होंगे तथा यह उनकी आजीविका को बरकरार रखने में भी सहायक
होगा।
 
कोविड-19 महामारी की वजह से गंभीर रूप से प्रभावित शिल्पकारों के समुदाय को राहत प्रदान करने के
लिए, जयपोर ने लाभार्जन नहीं करने वाले एक स्वयंसेवी प्लेटफॉर्म, क्रिएटिव डिग्निटी के साथ साझेदारी की
है। क्रिएटिव डिग्निटी के 'आर्टिज़न डायरेक्ट' अभियान में मध्यप्रदेश के शिल्पकारों के दो समूहों द्वारा बनाए
गए उत्पादों को Jaypore.com पर दिखाया जाएगा। इस अभियान के तहत बेहद शानदार ज़री से
सुसज्जित चंदेरी साड़ियों एवं कपड़े के अलावा हाथ से किए गए उच्च कोटि के रूपांकनों और पैटर्न के साथ
बाग प्रिंटेड टेक्सटाइल जैसे विशेष उत्पादों का प्रदर्शन किया जा रहा है। 15 अक्टूबर, 2020 से इस
अभियान की शुरुआत होगी, और इस तरह राज्य के इन शिल्पकारों को देश भर के ग्राहकों को अपने उत्पाद
बेचने के लिए एक मंच उपलब्ध होगा।
 
क्रिएटिव डिग्निटी और जयपोर साथ मिलकर शिल्पकारों को ई-कॉमर्स के क्षेत्र में प्रशिक्षण के अलावा
कैटलॉग मेकिंग, फोटोग्राफी, मूल्य-निर्धारण और लॉजिस्टिक्स प्रबंधन के क्षेत्र में भी प्रशिक्षण प्रदान करेंगे,
जिससे उन्हें अपने व्यवसाय को बढ़ाने में मदद मिलेगी। बिक्री अभियानों को राष्ट्रीय स्तर पर FICCI FLO
द्वारा प्रोत्साहन दिया जा रहा है। ब्रांड न केवल इन शिल्पकारों को अपने उत्पादों की मार्केटिंग के लिए एक
ऑनलाइन बाज़ार उपलब्ध कराएगा, बल्कि ई-कॉमर्स प्लेटफार्मों पर उत्पादों को अधिक आकर्षक,
मनमोहक और बिक्री योग्य बनाने के लिए उन्हें प्रशिक्षण भी प्रदान करेगा। पूरे भारत के प्रीमियर डिजाइन
संस्थानों के स्वयंसेवकों के साथ-साथ अन्य स्वयंसेवी डिजाइनरों और गैर-सरकारी संगठनों द्वारा इन
प्रशिक्षण कार्यक्रमों में सहायता प्रदान की जाएगी। विशेषज्ञ स्वयंसेवकों द्वारा शिल्पकारों को उनके गाँवों में
लगातार प्रशिक्षण दिया जा रहा है, जहां आमतौर पर सीमित सुविधाएं उपलब्ध होती हैं।
 
जयपोर की ब्रांड हेड, रश्मि शुक्ला कहती हैं, “जयपोर ब्रांड अपनी स्थापना के बाद से ही स्वदेशी एवं
स्थानीय उत्पादों को आगे बढ़ाने में मुखर रहा है। भारत की समृद्ध शिल्पकला और शिल्पकार ही हमारे ब्रांड
का दिल और आत्मा हैं। हमें इस बात का गर्व है कि, हमने हमेशा से भारतीय शिल्पकारों एवं कारीगर

समुदाय को अपनी उत्कृष्ट शिल्प विरासत को प्रदर्शित करने के लिए एक मंच प्रदान किया है। वर्तमान में
फैली इस महामारी ने देशभर के शिल्पकारों एवं शिल्पकारों की आजीविका के लिए एक बड़ी चुनौती उत्पन्न
की है, और इस तरह हमारी शिल्पकला और शिल्पकारों की प्रतिभा पर संकट मंडराने लगा है। मौजूदा
परिस्थितियों से उबरने और शिल्पकार समुदाय को सहारा देने के लिए हमने क्रिएटिव डिग्निटी के साथ गैर-
लाभकारी साझेदारी की है, ताकि इन शिल्पकारों को अधिक से अधिक लाभ मिल सके। इस साझेदारी से
हमें देश में हस्तकला के माहौल को प्रोत्साहित करने और अंततः 'मेक इन इंडिया' के हमारे सामूहिक राष्ट्रीय
आदर्श वाक्य को मजबूती प्रदान करने में मदद मिलेगी।"
 
रश्मि शुक्ला ने आगे कहा, "गुजरात और राजस्थान के शिल्पकारों के लिए आयोजित इस अभियान का
पहला संस्करण काफी सफल रहा था जिसमें जयपोर के दर्शकों ने काफी दिलचस्पी दिखाई। इस अभियान में
प्रदर्शित सभी उत्पादों की कारीगरी बेजोड़ थी और हमारे ग्राहकों की पसंद के अनुरूप थी। हमने अजरक
ब्लॉक प्रिंट वाली साड़ियों, जरदोजी कलाकृति, लाख के गहने, कीमती पत्थरों पर शिल्पकारी, और इसी
तरह के कई अन्य उत्पादों का प्रदर्शन किया। मध्य प्रदेश में इस कैंपेन के जरिए, हम बिना किसी प्रलोभन के
राज्य के अनगिनत कुशल शिल्पकारों को अपना मंच प्रदान करके उन्हें फायदा पहुँचाना चाहते हैं, साथ ही
उन्हें स्थायी आजीविका के साधन उपलब्ध कराना चाहते हैं।"
  
जयपोर 'आर्टिज़न डायरेक्ट' अभियान का एक महत्वपूर्ण भागीदार है। यह अभियान शिल्पकारों को
डिजिटल माध्यमों से जुड़ने का अवसर प्रदान करता है, साथ ही इस अभियान की अवधि के दौरान ग्राहकों
को आकर्षक ऑफ़र देने के लिए ऑनलाइन पार्टनर स्वेच्छा से अपने लाभार्जन को कम करते हैं। इस प्रकार
यह सभी पक्षों के लिए फायदेमंद है, क्योंकि इन शिल्पकारों की मदद करके ग्राहकों के दिल को बड़ा सुकून
मिलता है साथ ही शिल्पकारों को भी हाथों से तैयार किए गए विशेष उत्पादों की अच्छी कीमत मिल जाती
है।"
 
इस पहल के लिए निर्धारित अवधि के दौरान, जयपोर लगभग 250 शिल्पकारों के जीवन में एक
सकारात्मक बदलाव लाएगा। ब्रांड ने ऐसे छोटे उद्यमों को इस अभियान से जोड़ने की कोशिश की है, जिनके
पास अपनी आपूर्ति श्रृंखला का अभाव है। साथ ही ब्रांड ने महिलाओं के नेतृत्व वाले उद्यमों और महिला
शिल्पकारों को इस अभियान में शामिल किया है, जिनके पास तैयार उत्पाद उपलब्ध थे, तथा उन लोगों की
मदद की है जो अपनी आर्थिक जरूरतों के कारण बेहद दयनीय हालत में थे। जयपोर ने अभियान के बाद भी
इन शिल्पकारों के साथ जुड़ने की योजना बनाई है, साथ ही निकट भविष्य में देश भर के शिल्पकारों को
सहयोग प्रदान करने की योजना भी बनाई है।
 
आप Jaypore.com पर 'डायरेक्ट टू आर्टिज़न’ पेज के माध्यम से शिल्पकारों द्वारा निर्मित सभी उत्पादों
की खरीदारी कर सकते हैं।