ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
जिला पंचायत सी ई ओ कर रहे हैं  कमलनाथ सरकार को बदनाम करने का काम
February 16, 2020 • Vijay sharma

रीवा। जिले में एक किलोमीटर की दूरी मे एक प्राईवेट स्कूल खुला है और उसी के पास शासकीय स्कूल है।भाजपा की सरकार के समय शासकीय स्कूल इतने बदनाम कर दिये गए थे कि आम आदमी अपने बच्चों को शासकीय स्कूलों में पढ़ाना ही नहीं चाहता है और उनके बच्चे प्राईवेट स्कूलों में पढ़ते हैं शासकीय स्कूलों की व्यवस्था सुधारने की जगह शिक्षको को प्रताड़ित करने का काम कर रहे हैं जिससे कमलनाथ सरकार के विरुद्ध असंतोष फैल जाए और शिक्षक वर्ग सरकार के विरोध में हो जाए।और आने वाले चुनावों में भाजपा को फायदा हो सके।ऐसा लगता है कि वर्तमानशासकीय स्कूलों में सी ई ओ भाजपा के ऐजेंट के रूप में कार्य कर रहे हैं।और शिक्षा व्यवस्था सुधारने की वजह शिक्षकों को प्रताड़ित कर रहे हैंअगर व्यवस्था सुधारना चाहते हैं तो सत्र की शुरुआत में ही घ्नान देना चाहिए था और स्कूलों मे जिन जिन व्यवस्थाओ का अभाव था उन्हें पूरा करना चाहिए था उसके बाद शिक्षकों को टाईट करना चाहिए था उसके बाद अगर शिक्षक गड़बड़ी करते तब कार्यवाही करने की जरूरत होती और शिक्षकों मे असंतोष भी नहीं होता।परन्तु प्रशासन मे बैठे आफीसर सिर्फ अपनी जिम्मेदारी से बचने के लिए निरीह शिक्षकों को निशाना बना रहे हैं और सरकार के प्रति असंतोष फैला रहे हैं।जोकि सरासर गलत है अधिकारी अपनी जिम्मेदारी से बचकर भाग नहीं सकते।उनको अपनी भूमिका तय करनी होगी और ऐसा कार्य करना चाहिए जिससे वर्तमान सरकार के प्रति असंतोष ना फैलने पाये।गरीब परिवार के बच्चों को भी इसका लाभ मिलता रहे।और प्रशासन के ऊपर भी कर्मचारियों का विश्वास बना रहे।वैसे भी किसी भी व्यक्ति की रोजी रोटी पर संकट नहीं पैदा होना चाहिए सभी जिम्मेदार अधिकारियों को इसका ध्यान रखना चाहिए।समाचार जनचर्चा के अनुसार लिखा गया है।