ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
केंद्र सरकार की श्रम विरोधी नीतियों के खिलाफ देश भर में करोड़ों कामगारों ने किया प्रदर्शन
September 24, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

बैंक कर्मियों ने भी विरोध कार्यवाही में बढ़ चढ़कर भाग लिया
भोपाल। केंद्रीय श्रमिक संगठनों एवं स्वतंत्र यूनियनों के आह्वान पर देश भर में करीब 20 करोड़ से अधिक कामगारों ने केंद्र सरकार की श्रम विरोधी नीतियों के खिलाफ बुधवार को राष्ट्रव्यापी विरोध दिवस पर प्रदर्शन एवं विरोध कार्रवाई कर अपना आक्रोश जताया। मध्यप्रदेश में हर जिला, तहसील एवं कस्बा में विरोध कार्रवाई की गई ।राजधानी भोपाल में भी ट्रेड यूनियनों द्वारा भेल एवं डाक भवन तिराहा होशंगाबाद रोड भोपाल पर  संयुक्त विरोध कार्रवाई कर आक्रोश जताया। डाक भवन तिराहा पर प्रदर्शन कार्रवाई को केंद्रीय श्रमिक संगठनों एटक, सीटू ,बैंक , बीमा, केंद्र एवं अन्य संस्थानों के कर्मचारियों ने भाग लिया।प्रदर्शन कार्रवाई को ट्रेड यूनियनों के नेताओं साथी वीके शर्मा, रूप सिंह चौहान ,ए टी पद्मनाभन, यशवंत पुरोहित, एस एस मोर्या ,पी एन वर्मा, ओम प्रकाश, एससी जैन, राम हर्ष पटेल , जे पी दुबे, बाबूलाल राठौर आदि ने संबोधित किया। मध्य प्रदेश बैंक एंपला ईज एसोसिएशन के सदस्यों द्वारा इंदौर,भोपाल ,जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, रतलाम, सतना ,सागर ,रीवा एवं अन्य सभी जिलों, तहसील, एवं कस्बों  में विरोध कार्रवाई की गई। बैंक कर्मियों ने अपनी-अपनी बैंक शाखाओं एवं कार्यालयों के सामने आकर प्लेकार्ड एवं पोस्टर का प्रदर्शन कर अपना विरोध जताया। मध्य प्रदेश बैंक एंप्लाईज एसोसिएशन के महासचिव वी के शर्मा ने बताया कि केंद्र सरकार की श्रमिक विरोधी विनाशकारी नीतियों, वेतन में कटौती एवं रोजगार पर लगातार हो रहे हमलों तथा श्रम कानूनों में किए जा रहे मजदूर एवं ट्रेड यूनियन विरोधी परिवर्तनों, सौ फीसदी एफडीआई, बढ़ते हुए निजीकरण के खिलाफ देश भर के करोड़ों कामगार आज राष्ट्रव्यापी विरोध दिवस पर एकत्रित होकर अपनी एकजुटता का इजहार कर आक्रोश व्यक्त कर रहे थे। आज के राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन के द्वारा सरकार को आगाह किया गया कि वे श्रम विरोधी नीतियों तथा एफडीआई एवं निजी करण को प्रोत्साहित करने वाली नीतियों को विराम दें अन्यथा आने वाले समय में आंदोलन को और तेज किया जाएगा जिसमें धरना ,प्रदर्शन के अलावा राष्ट्रव्यापी हड़ताल  भी शामिल होगी।