ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
खंडवा और बुरहानपुर के बीच फंसी 20 ट्रेन, यात्रियों को रोटी पानी और हवा के लाले
May 22, 2020 • Admin

खंडवा l लंबे समय बाद पटरी पर ट्रेनों की व्यवस्था हुई है l लोग रेल में सफर के लिए काफी बेताब थे l खंडवा और बुरहानपुर स्टेशन के बीच हाल ही में 20 से ज्यादा ट्रेनें फंसी हुई हैं l इनमें हजारों यात्री सवार हैं l महिला और बच्चे परेशान हो रहे हैं l कई ट्रेनों में पंखे भी नहीं हैंl इन ट्रेनों को भोपाल मंडल खंडवा के सिहाड़ा से आगे नहीं ले रहा है l भुसावल मंडल कि यह गाड़ियां आगे नहीं बढ़ पा रही हैं l इससे लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है l यात्री गर्मी में परेशान हैंl ट्रेनों में पानी और भोजन तक की व्यवस्था नहीं है l 20 ट्रेनों के फंसे होने के कारण दिक्कतों के पहाड़ इन पर टूट रहे हैं l खंडवा के सिहाड़ा से आगे भोपाल मंडल लगता है l बताते हैं कि भोपाल मंडल संचालन इन ट्रेनों को आगे की अनुमति नहीं दे पा रहा है l इसके पीछे तकनीकी कारण बताए जा रहे हैं l लोग काफी परेशान हैं l कुछ समाजसेवी और अधिकारी रेलों के यात्रियों की मदद कर रहे हैं l लेकिन सीमित दायरे में ही काम कर रहे हैं l बुरहानपुर के पुलिस अधिकारी केके अग्रवाल भी इस सेवा में अपने स्तर पर जुटे हुए हैं l श्री अग्रवाल ने बताया कि उनका मकसद केवल यात्रियों महिलाओं और बच्चों को पानी और ऐसी जरूरी सुविधाएं देने का है l सवाल यह उठता है कि भुसावल मंडल की गाड़ियां भोपाल का संचालन मंडल क्यों नहीं ले रहा है ? यात्रियों की 40 से अधिक डिग्री तापमान में फजीहत का जिम्मेदार कौन होगा ? इन लोगों को बड़ी मुश्किल से टिकट मिला था l अब परेशानियों से दो चार होना पड़ रहा है l खंडवा और बुरहानपुर के कलेक्टरों को भी चाहिए कि वह मिलकर भोपाल रेल मंडल संचालन से बात कर समस्या का हल निकाल सकते हैं l हो सकता है कि ऐसी स्थिति प्रदेश व देश के अन्य हिस्सों में भी हो रही हो l मसला यात्रियों का है और ट्रेन 2 महीने बाद पटरी पर दौड़ने लगी है रेल सेवा को यातायात की धड़कन माना जाता है l यात्रा की इस जीवन रेखा को सुचारू करने के लिए नए इंतजाम करने होंगे l बुरहानपुर से खंडवा तक हर स्टेशन पर दो से तीन ट्रेनें खड़े होने की सूचना है l इनमें यात्री सवार हैं l कोरोनावायरस से भी बचाव करते हुए इन यात्रियों को जरूरत की सारी सुविधाएं जुटाना हमारा और आपका कर्तव्य हो जाता है !