ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
किसान खेत पाठशाला में शामिल हुए संभागायुक्त
November 7, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

किसानों का सम्मान और उत्पादन बढ़ाने की सीख भी दी

भोपाल । एक ही खेत में विविधता पूर्ण खेती करने से आपदा के समय किसान खुद ही नुकसान की भरपाई कर सकता है । संभागायुक्त कवीन्द्र कियावत गत शाम फंदा विकासखंड की ग्राम पंचायत सरवर में किसान खेत पाठशाला में सम्मिलित हुए और उन्होंने किसानों के साथ खुलकर संवाद किया । उल्लेखनीय है कि पूरे संभाग में हर ग्राम पंचायत में मास्टर ट्रेनर्स किसान खेत पाठशाला लगाकर किसानों के अनुभव और तकनीक के समन्वय पर चर्चा कर किसानों की आय दोगुनी करने के प्रयास कर रहे हैं ।

 

किसान खेत पाठशाला में एक हेक्टेयर में 60 क्विंटल से अधिक गेहूं उत्पादन देने वाले लगभग आधा दर्जन किसानों और आधा एकड़ तालाब में 4000 किलो मछली उत्पादित करने वाले किसान को श्री कियावत ने शाल श्रीफल भेंट कर सम्मानित भी किया । यहां के किसान श्री लालाराम मीणा ने तो एक हेक्टेयर में 83 क्विंटल गेहूं उत्पादन किया । संभागायुक्त ने अन्य किसानों से कहा कि वे भी अपनी उपज को साधारण से उपायों से दोगुना – तीन गुना कर सकते हैं ।

 

श्री कियावत ने कहा कि सरकार की मंशा है कि उत्पादन लागत कम और अधिक उत्पादन लिए जाने के लिए किसानों के अनुभव तथा तकनीक का गठजोड़ हो । उन्होंने कहा कि दो एकड़ का किसान भी सुव्यवस्थित खेती जैसे एक एकड़ में गेहूं, आधा एकड़ में चना और शेष भूमि पर अन्य नगदी फसलें लेकर सामंजस्य बनाकर प्राकृतिक आपदा में होने वाले नुकसान से बच सकते हैं । उन्होंने मछली पालन, पशुपालकों से भी तकनीक से समन्वय कर आमदनी में इजाफा करने की सीख दी ।

 

पाठशाला में सीईओ जिला पंचायत श्री विकास मिश्रा, संयुक्त संचालक कृषि श्री बी एल बिलैया सहित कृषि और उत्पादक गतिविधियों से जुड़े अधिकारी उपस्थित थे ।