ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
कोरोना की आड़ लेकर वेसेरे रनिंग स्टाफ का जमकर शोषण
June 16, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

 गार्डों में गुस्सा , होगा आंदोलन।

भोपाल। पश्चिम मध्य रेलवे प्रशासन द्वारा रनिंग कर्मचारियों के शोषण, प्रताड़ित व् उनकी सुरक्षा में लापरवाही के विरोध में ऑल इंडिया गार्ड काउन्सिल  के  सदस्यों द्वारा स्पीड पोस्ट व् ट्विटर के द्वारा  अपना विरोध दर्ज कराएँगे। और उसके बाद भी अगर बात नहीं बनी तो आगामी दिनों में आंदोलन भी करेंगे। पश्चिम मध्य रेलवे प्रशासन ने कोविड-19 की आड़ में रेल गार्डों का शोषण, प्रताडि़त करना शुरू कर दिया है। संरक्षा व सुरक्षा को धता बताकर ड्यूटी कराई जा रही है ऑल इण्डिया गार्ड कौंसिल के जोनल सचिव मनोज कुमार ने बताया कि -पश्चिम मध्य रेलवे के मंडलों के रेल प्रशासन द्वारा कोविड-19 की आड़ में रेल अधिकाारियों द्वारा बिना लाइन बाक्स के गाड़ी में कार्य करवाया जा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ लाइन बाक्स में रखा जाने वाला 20 से 30 किलो का संरक्षा उपकरण रनिंग स्टाफ के बैग में रखकर सिर पर ढोने के लिए मजबूर किया जा रहा है। रनिंग स्टाफ को रेल प्रशासन ने कुली बना दिया है। इस कारण गार्डों में भारी आक्रोश व्याप्त है। गार्ड कौंसिल पश्चिम मध्य रेलवे के COB राजेश गुप्ता ने जानकारी दी कि आज स्पीड पोस्ट द्वारा गार्डों द्वारा हस्ताक्षरित मेमोमेरंडम भेजा जायेगा और साथ ही ट्विटर के माध्यम से सभी गार्ड प्रशासन से अपील भी करेंगे ! यदि इसके बाद भी लाइनबॉक्स प्रारंभ नहीं होते है तो 25 जून को सभी लॉबी में गार्डों द्वारा रैली, धरना, प्रदर्शन करके सभी संरक्षा उपकरण प्रशासन को वापिस कर देंगे। रनिंग स्टाफ के साथ पूरे परिवार को रेल प्रशासन द्वारा तनावग्रस्त किया जा रहा। इन कारणों से कभी भी कोई बड़ी रेल दुर्घटना हो सकती है। जिसकी पूरी जवाबदारी रेल प्रशासन की होगी।