ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
कोरोना वायरस बचाव के लिये रेलवे प्रशासन सतर्क
March 18, 2020 • Admin
भोपाल । रेल मण्डल यात्रियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु लगातार सतर्कता बरत रहा है एवं सतत् निगरानी भी रखे हुये है। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिये भोपाल मण्डल से चलने वाली सभी गाडिय़ों के वातानुकूलित डिब्बों से परदे एवं यात्रियों को दिये जाने कम्बल हटा दिये गये हैं। यात्रियों से अनुरोध है कि वह अपने साथ ओढऩे के लिये कोई गरम चादर/ शाल/कम्बल आदि साथ लायें। वहीं रेल मण्डल से चलने वाली सभी गाडिय़ों के वातानुकूलित डिब्बों का तापमान को नियंत्रित रखा जा रहा है, जिससे यात्रियों को किसी तरह की असुविधा न हो। लेकिन यदि मजबूरीवश कोई यात्री अतिरिक्त बेडशीट की मॉंग करता है तो उसे बेडशीट भी उपलब्ध कराई जायेगी।  ट्रेनों की धुलाई स्पेसीफाइड केमीकल से इसके अतिरिक्त मण्डल से चलने वाली सभी पैसेजर गाडिय़ों की धुलाई स्पेसीफाइड केमीकल के साथ डिस्इंफेक्ट किया जा रहा है तथा यात्रियों के सम्पर्क में आने वाली हर उस वस्तु जैसे-टेऊन हैण्डल, पायदान, दरवाजों की नॉब, वाशबेसिन के नल, बर्थ पर चढऩे की जंजीरें एवं सीढ़ी, सीट कवर आदि की विशेष प्रकार से साफ-सफाई कर स्प्रे किया जा रहा है।  स्टेशन पर लगातार एलाउंस  यात्रियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु जानकारी देने के लिये स्टेशनों पर लगातार उद्घोषणा की जा रही है। इसके साथ ही भोवाल एवं इटारसी स्टेशनों पर यात्रियों को कोरोना वायरस के बचाव हेतु वीडियों क्लिप के माध्यम से सचेत किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त यात्रियों को जागरूक करने के लिये प्लेटफॉर्मों,बुकिंग कार्यालय, पूछताछ केन्द्र पर, स्टेशन के सरकुलेटिंग एरिया में पोस्टर एवं बैनर्स तथा टेऊनों के डिब्बों में पोस्टर लगाये गये है, जिसमें यात्रियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु सावधानियॉ व निर्देश लिखे गये हैं,जिससे कोरोना वायरस के संक्रमण से यात्री बचाव कर सके। कोरोना को लेकर आइसुलेशन वार्ड तैयार मण्डलचिकित्सालय,निशातपुरा,में कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों के लिये एक आइसुलेशन वार्ड तैयार किया गया है, जिसमें कुल बेडों की क्षमता का 10 आइसुलेशन वार्ड बनाया गया है। इसके अतिरिक्त आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिये मण्डल के भोपाल, इटारसी,
होशंगाबाद, हरदा, विदिशा, बीना एवं गुना स्टेशनों पर कोरोनटाइन बेडों की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही यदि किसी यात्री को तेज बुखार, सर्दी, जुकाम हो तो वह टिकट जॉंच कर्मचारी को सूचित करे एवं भोपाल स्टेशन पर उपलब्ध चिकित्सा बूथ पर डॉक्टर्स से परामर्श लें।