ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
कोरोना वायरस को लेकर कमिश्नर गंभीर बचाव और रोकथाम के लिए जागरूकता अभियान चलेगा
March 6, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश
आंगनबाड़ी से कालेज तक मास्टर ट्रेनर को प्रशिक्षण
असेम्बली और समर केम्प रोकने के निर्देश
 
भोपाल । कमिश्नर कल्पना श्रीवास्तव ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए सम्भाग के सभी स्कूल-कालेज में असेम्बली और समर केम्प तत्काल रोके जाने के निर्देश दिए हैं। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए आज सम्पन्न हुई बैठक में उन्होंने आंगनबाड़ी से लेकर कालेज तक के बच्चों के बीच तत्काल जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए है।
कमिश्नर के निर्देश के बाद आज ही आंगनबाड़ी के पर्यवेक्षक को कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए मास्टर ट्रेनर के रूप में प्रशिक्षित किया गया । शुक्रवार को पॉलिटेक्निक कालेज में महाविद्यालय के प्राचार्य और कमला नेहरू स्कूल में स्कूलों के प्राचार्य को मास्टर ट्रेनर के रूप में प्रशिक्षित किया जायेगा। टेक्निकल कालेज के प्राचार्य को शनिवार को गोविंदपुरा आईटीआई में ट्रेनिग दी जाएगी। ये मास्टर ट्रेनर अपने अपने संस्थान में विद्यार्थियों को कोरोना वायरस से सतर्क रहने और सावधानियों से अवगत कराएंगे। कमिश्नर ने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए नागरिक सहित बच्चे हाथ नहीं मिलाएं, नमस्ते से ही अभिवादन करें, बार बार हाथ धोएं, हाथ धोने की व्यवस्था नहीं होने पर सेन्टाइज़ करें, बुखार और सर्दी जुकाम होने पर तुरन्त डॉक्टर को दिखाएं और जब तक स्वस्थ्य न हों घर से नही निकलें। उन्होंने यथा सम्भव भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में जाने से बचने की
सलाह भी दी है । कमिश्नर ने निर्देश दिए है कि नागरिकों के लिए तत्काल जागरूकता अभियान चलाया जाए। बड़े बैनर- फ्लेक्स आदि लगाए जाएं तथा प्रचार माध्यमों से भी प्रचार प्रसार किया जाए । इस बीच सीएमएचओ ने बताया कि जिले में एम्स, हमीदिया और जे.पी.अस्पताल में कुल 19 बेड आईसोलेशन के लिए सुरक्षित रखे गए हैं। बैठक में बताया गया कि सरकारी
अस्पतालों में दवाई और अन्य सामग्री का पर्याप्त भंडारण किया गया है। सीएमएचओ ने बताया कि जरूरत पडऩे पर 40 अतिरिक्त बेड के आइसोलेशन वार्ड भी तैयार किया गया है । कमिश्नर ने कहा कि स्कूल और कालेज में हाथ धोने के लिए कईं स्थान बनाए जाएं और प्रत्येक कक्षा के समस्त बच्चों को सतत रूप से हाथ धोने की आदत डालें । उन्होंने कहा कि
तैयार किए गए मास्टर ट्रेनर्स बच्चें को स्कूल-कालेज में जागरूक करेंगे । उन्होंने नागरिकों से अपील की है कि वे सतर्कता बरत कर बड़ी से बड़ी बीमारी को दूर कर सकते हैं ।