ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
कुणाल चौधरी ने बाढ़ में फंसे 100 से ज्यादा लोगों को निकलने SDERF की टीम साथ पहुंचे
August 23, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

राजगढ़ । मध्य प्रदेश में बीते 24 घंटे से हो रही लगातार बारिश की वजह से कई जिलों में बाढ़ जैसे हालत हो गए है और कई गांव पानी में पूरी तरह दुब चुके हैं। ऐसा ही हाल मध्य प्रदेश के शाजापुर जिले का है जहाँ बीते 24 घंटे में कम से कम 103 मिलीमिटेर बारिश की वजह से पुरे ज़िले में हालत बेहाल है। जिले की कालापीपल विधानसभा के हालत तो और बदतर हैं। यहाँ की पार्वती नदी का जलस्तर बढ़ने से पूरा इलाका जलमग्न होगया और अस्स-पास के गांव में बाढ़ जैसे हालत हो गए। वहीं जब इलाके में बाढ़ जैसे हालत की खबर मिले तो कालापीपल से कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी मौके पर पहुंचे गए और उन्होंने 100 से ज्यादा लोगों को बचाया। कुणाल चौधरी को खबर मिली की उनकी विधानसभा के कई गावों में  भारी बारिश के कारण बाढ़ आगयी है और सड़कों लोग फसे हुए है। विधायक कुणाल चौधरीको कालापीपल के ग्राम तिलियाखेड़ी में 50 लोगों की और ग्राम सुखलिया में भी कई लोगों के बाढ़ की वजह से फंसे होने की सूचना मिली। सुचना मिलने के बाद आनन-फानन में विधायक कुणाल चौधरी ने तत्काल मौके पर पहुँचकर राहत दलों को बचाओ कार्यों हेतु निर्देशित किया। बड़ी संख्या में लोगों के फंसे  बाद कुणाल चौधरी से रहा नहीं गया और वह खुद SDERF की राहत टीम के साथ अपनी जान की परवाह किये बिना लाइफ सपोर्ट जैकेट पहन कर, SDERF की बोत में बैठ गए इसके बाद कुणाल चौधरी तकरीबन 5 घंटे तक लोगों को बाढ़ से बहार निकल के लिए रहत और बचाव कार्य में जुटे रहे। 
इतना ही नहीं कुणाल चौधरी ने मौके पर प्रशासनिक अमले को बुलाकर लोगों के रहत-बचाव कार्य के लिए चर्चा करते हुए उन्हें कई निर्देश दिए। इस दौरान कुणाल चौधरी ने कालापीपल के गांव-गांव जाकर लोगों से मुलाकात कर उनका हाल जाना और साथ ही लोगों से यह भी जाना की कहीं कोई बाढ़ के पानी में कहीं फसा हुआ तो नहीं हैं। वहीं विधायक कुणाल चौधरी ने विधानसभा के सभी गांवों में यह संदेश भी पंहुचा कि अगर कहीं पर भी कोई भी व्यक्ति बाढ़ के फास जाये या किसी को सुचना मिले तो तुरंत विधायक कुणाल चौधरी से संपर्क करे। कुणाल चौधरी ने इस दौरान कहा कि कालापीपल के सभी लोग उनके परिवार की तरह हैं। उन्होंने ने कहा  परिवार जन घबराने की कोई ज़रूरत नहीं है, आपका भाई-आपका बेटा हर संकट में आपके साथ खड़ा है।