ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
लाईनमेन राजस्व वसूली और उपभोक्ताओं से निरंतर संवाद बनाएं : प्रबंध संचालक
March 7, 2020 • Admin
भोपाल । मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री मनीष सिंह ने राजस्व वसूली और बेहतर उपभोक्ता सेवाएं देने के लिए लाईनमेन संवाद कायज़्क्रम के अंतगज़्त भोपाल शहर एवं भोपाल ग्रामीण में कायज़्रत लाईन  स्टॉफ से कहा है कि वे मेहनत, लगन और निष्ठा से कार्य करते हुए बकायादार उपभोक्ताओं से राजस्व वसूली में सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि बिजली उपभोक्ताओं से लाईन स्टॉफ अच्छा व्यवहार करें तथा पेईंग उपभोक्ताओं को प्रोत्साहित करने के लिए उन्हें बेहतर सेवाएं भी दी जाएं। प्रबंध संचालक मनीष सिंह ने यह कहा कि लाईन स्टॉफ बकाया राशि वसूली के लिए बकायादारों की श्रेणीवार सूची तैयार कर प्रभावी डिस्कनेक्शन करें और यह डिस्कनेक्शन इस प्रकार से होना चाहिए कि कंपनी को राजस्व प्राप्त हो। लाईन स्टॉफ से कहा है कि राजस्व वसूली
के मामलों में यह भी देखा जाए कि डिस्कनेक्शन के उपरांत उपभोक्ताओं द्वारा बकाया राशि जमा नहीं की जाती है तो संबंधित परिसर को चेक किया जाए कि कहीं बकायादार द्वारा कनेक्शन जोड़ तो नहीं लिया है। यदि कनेक्शन जोड़ लिया गया है तो विद्युत अधिनियम 2003 के अंतर्गत कार्यवाही की जाए। प्रबंध संचालक मनीष सिंह ने कहा कि लाईन
स्टॉफ मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी और उपभोक्ताओं के बीच महत्वपूर्ण सेतू है तथा जो लाईन स्टॉफ अच्छा कार्य कर रहे हैं उन्हें मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी सम्मानित करेगी।
उन्होंने जोर दिया कि उपभोक्ता परिसर तक बिजली आपूर्ति के लिए लगने वाली औसत आपूर्ति लागत के अनुरूप प्रति यूनिट नकद राजस्व वसूली  लाने के लिए सघन प्रयासों की जरूरत है। बिजली चोरी की रोकथाम में लाईनमेन अपनी भूमिका निभाएं और उपभोक्ता की शिकायतों को निदान जल्दी से करें। लाईन स्टॉफ यह भी ध्यान रखे कि जो आउटसोर्स और अन्य संविदा कर्मी काम कर रहे हैं उनकी सुरक्षा का भी ख्याल रखें, उपभोक्ताओं
से लगातार संवाद बनाए रखें और अपने क्षेत्र के उपभोक्ताओं के मोबाइल नंबर अपनी डायरी में अंकित करें, ताकि मोबाइल से बकाया राशि की वसूली के प्रयास किए जा सकें। प्रबंध संचालक ने लाईन स्टॉफ से कहा कि आने वाले अप्रैल माह में मानसून पूवज़् रख-रखाव का कायज़् शुरू होने जा रहा है। इन कायोज़्ं को सावधानी और सुरक्षा से करें तथा लाईन पर कार्य करते हुए सुरक्षा जोन बनायें, शटडाउन नियमानुसार लें और मेन्टीनेन्स प्रभावी ढंग से हो ताकि बारिश के दौरान भी प्राकृतिक आपदा को छोड़कर ट्रिपिंग कम से कम हो। इस अवसर पर निदेशक (तकनीकी) आरएस श्रीवास्तव, मुख्य महाप्रबंधक भोपाल डीपी अहिरवार, मुख्य महाप्रबंधक  एम.एस.अत्रे एवं रिंकू दास सहित सभी महाप्रबंधक एवं उपमहाप्रबंधक उपस्थित थे।