ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
लॉकडाउन में दूरदर्शन पर लौटा रामायण
March 27, 2020 • Admin
नई दिल्ली। पछले काफी समय से दर्शक यह मांग कर रहे हैं कि दूरदर्शन पर प्रसारित हुए ऐतिहासिक पौराणिक सीरियल रामायण और महाभारत का दोबारा प्रसारण किया जाए। दर्शकों की इस मांग का अब सूचना-प्रसारण मंत्रालय ने संज्ञान लिया है और घोषणा की है कि शनिवार (28 मार्च 2020) से रामानंद सागर के मशहूर सीरियल रामायण का दूरदर्शन पर दोबारा प्रसारण किया जाएगा। लेकिन यह पहले जैसा जादू चला पाएगा, इसको लेकर संशय ही है। लॉकडाउन की वजह से लोग घरों में हैं, लेकिन वे रामायण-महाभारत देखेंगे भी या नहीं इसकी गारंटी नहीं है। ऐसा इसलिए क?ि तब हालात और थे और अब कुछ और हैं।
सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने ट्वीट कर बताया है कि सीरियल का पहला एपिसोड सुबह 9 बजे और दूसरा एपिसोड रात 9 बजे प्रसारित किया जाएगा। लेकिन सवाल यह बनता है कि क्या यह सीरियल लोगों के दिलो-दिमाग पर पहले जैसा जादू चला सकेगा? रामायण का टेलिकास्ट दूरदर्शन पर 25 जनवरी 1987 में शुरू हुआ था। तब यह टीवी पर आने वाला पहला मेगा सीरियल था। तब दूरदर्शन भारत में चलने वाला एकमात्र टेलिविजन चैनल था। लेकिन अब जमाना दूसरा है। सैकड़ों टीवी चैनल्स के बाद अब दुनिया इंटरनेट टीवी और ओटीटी प्लेटफॉर्म्स की दीवानी है।
तब खाली हो जाती थी सड़कें
उस दौर में भारत के हर घर में टेलिविजन नहीं हुआ करता था। जब रामायण-महाभारत का प्रसारण होता था तो पूरे मोहल्ले के लोग उस घर में इक_े होते थे जहां टीवी मौजूद होता था। उस समय रामायण का लोगों के दिलो-दिमाग पर जादू आप ऐसे समझ सकते हैं कि जब इसका प्रसारण होता था तो सड़कें खाली हो जाया करती थीं। यह पहली बार था जबकि लोग अपने आराध्य देवों को टीवी पर देख रहे थे, इसलिए इस सीरियल को देखकर लोग भावुक भी हो जाते थे। उस दौर में दूरदर्शन का ऐसा जलवा था कि समाज में केवल हिंदू ही नहीं बल्कि मुस्लिम, सिख, ईसाई सभी धर्मों के लोगों ने रामायण को टीवी पर देखा था।