ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
मार्केटिंग बढ़ाने 250 पार्लर तैयार , सुविधाजनक स्थानों पर शीघ्र प्रांरभ किये जायेंगे : कियावत
September 30, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल ।  संभागायुक्त और दुग्ध संघ प्रशासक  कवीन्द्र कियावत ने भोपाल दुग्ध संघ के 38 वें वार्षिक साधारण सभा को संबोधित करते हुए कहा कि दुग्ध मार्केटिंग बढ़ाने के लिए नयी डिजाईन में 250 पार्लर तैयार कर सुविधाजनक स्थानों पर शीघ्र प्रांरभ किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि दुग्ध समितियों की मांग के अनुसार दूध खरीदी के दाम बढ़ाने के लिए जल्दी समीक्षा की जाएगी। वार्षिक अधिवेशन में श्री कियावत ने कहा कि कोरोना महामारी एक चुनौती और संकट का समय है। ऐसी विपरीत परिस्थितियों में पशुओं के पालन और संसाधन में भी कमी आने के बाद भी वर्तमान में प्रतिदिन 02 लाख 20 हजार लीटर दूध की खपत हो रही है। जिसे बढ़ाकर प्रतिदिन 02 लाख 60 हजार लीटर किये जाने की पहल की जा रही है। सम्मेलन में सीईओ डॉ. के.के. सक्सेना सहित जिलों के समितियों के पदाधिकारी भी उपस्थित थे। अनेक समितियों के पदाधिकारियों ने बीसी के माध्यम से भाग लिया। 
 श्री कियावत ने कहा कि भोपाल दुग्ध सहकारी संघ को आर्थिक रूप से मजबूत करने के लिए मार्केटिंग को दुरूस्त करना होगा। इसके लिए जिलों के एम.बी.ए. शिक्षित युवाओं को मार्केटिंग में कमीशन के आधार पर कार्य कराया जायेगा। जिससे दुग्ध संघ की बिक्री बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि वर्तमान में 100 मीट्रिक टन पशु आहार तैयार किया जा रहा है। जबकि हमारी क्षमता 150 मीट्रिक टन पशु आहार बनाने की है। शीघ्र ही इस पर अमल किया जायेगा। उन्होंने बताया कि हाल ही में किये गये सर्वे में भोपाल दुग्ध संघ के दूध को 106 में से 100 अंक मिले हैं, जो दूध की गुणवत्ता के सर्वोच्च स्तर को प्रदर्शित करता है। 
 श्री कियावत ने कहा कि गाय एवं भैंस के दूध के सैप्रेट पैकेट तैयार किये जायें। उन्होंने कहा कि मध्यिप्रदेश शासन द्वारा दुग्ध उत्पादकों को भी किसान क्रेडिट कार्ड से जोड़ा गया है, जिससे दुग्ध उत्पादकों को भी जीरो प्रतिशत पर लोन उपलब्ध कराया जायेगा। इसके लिए प्रत्येक जिले में नोडल अधिकारी बनाये गये हैं। इस योजना का लाभ दुग्ध उत्पादक समिति के माध्यम से ले सकेंगे। उन्होंने कहा कि पशुओं के स्वास्थ्य परिक्षण के लिए जिला एवं तहसील स्तर पर स्वास्थ्य शिविर लगाये जायेंगे। जिसमें जिला स्तर पर उप संचालक, पशु चिकित्सा एवं विकासखण्ड/तहसील स्तर पर पशु चिकित्सा अधिकारी के द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण किया जायेगा। 
 श्री कियावत ने कहा कि कलेक्टरों को विशिष्ट तौर पर दुग्ध विक्रेताओं के लिए पार्लर आवंटन के लिए निर्देश दिये गये हैं। मिल्क प्रोडक्ट की माकेर्टिंग के लिए शहर के प्रमुख चौराहों, बस स्टैण्ड और ऐसे स्थान पर जहां मिल्क प्रोडक्ट की मार्केटिंग अधिक से अधिक हो सकें, वहां पार्लर स्थापित किये जायें। ऐसे प्रकरण समिति द्वारा दुग्ध संघ के सीईओ के संज्ञान में लाये जायें। उन्होंने कहा‍ कि एम.पी. नगर भोपाल में 1000 वर्गफिट के प्लॉट पर साँची ब्रांड के पार्लर तैयार कर सभी उत्पादों का प्रचार-प्रसार किया जायेगा। सम्मेलन में प्रस्तुत सभी 12 प्रस्तावों को सर्वसम्मति से पारित किया गया है।  कार्यक्रम में दुग्ध संघ समितियों के संचालक, दूध विक्रेता, कृषक अधिकारी उपस्थित थे।