ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
मुख्तार के मकान तोड़ने कार्यवाही, पूर्व पार्षद व पति गिरफ्तार
September 10, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल। मंगलवार रात्रि में गिरफ्तार किए गए कुख्यात बदमाश मुख्तार मलिक के खिलाफ जिला प्रशासन के द्वारा सख्त कार्यवाही की जा रही । जिसकी शुरुआत श्यामला हिल  अहाता रुस्तम खाँ स्थित  मुख्तार का मकान तोड़ने  नगर निगम का अमला पहुंच गया है।

यह मकान शासकीय भूमि पर अवैध कब्जा कर  मकान बनाया गया था। जिसे नगर   निगम द्वारा  जमीदोज कर दििया  गया । कार्यवाही के दौरानक्षेत्रीय थाना प्रभारी तरुण भाटी दल बल के साथ जिला प्रशासन और नगर निगम का अमला भी मौके पर मौजूद  

 

 

 

फरारी काटने का ठिकाना पहले भी गौहरगंज रहा है।

यह पहली बार नहीं की मुख्तार को गौहरगंज से गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले भी इसे गौहरगंज से गिरफ्तार किया का चुका है क्यों कि यह मूलतः गोहर गंज का ही रहने वाला है। वाहन पर फरारी के दौरान सभी सुविधाएं आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं। हमेशा ही भोपाल में अपराध कर गौहरगंज में ही भाग जाता है।
न्यायालय गोली कांड के बाद ख्याति मिली थी
मुख्तार मलिक ने भोपाल में अपराधी प्रवृत्ति के लोगों  गेंग बना रखी। जो इसके इशारे पर कोई भी अपराध कर सकें। उसका उदाहरण भोपाल न्यायालय में पेशी के दौरान मुन्ना पेंटर व मुख्तार के गुर्गों में अमने सामने गोली चली थी। जिसमें भोपाल न्यायालय द्वारा फांसी की सजा सुनाई गई थी। इस गोली कांड के बाद उसने कई जगह अपराध किए।

मकान तोड़ने का विरोध करने पर आशिफ व शबिस्ता गिरफ्तार

 राजधानी में आज नगर निगम के द्वारा मुख्तार मलिक का मकान तोड़ने का विरोध करने पहुंचे कांग्रेस नेता पार्षद पति पत्नी को गिरफ्तार कर लिया गया है। प्राप्त जानकारी अनुसार आज सुबह जिला प्रशासन के द्वारा कुख्यात बदमाश के अवैध मकान को तोड़ने की कार्यवाही की जा रही थी । इस कार्यवाही की खबर जैसे ही मुख्तार मलिक नजदीकी व कांग्रेस की पार्षद शाबिस्ता और उनके पति आशिफ जकी इसका विरोध करने पहुंच गए ।  शासकीय कर्वहिं में दखल देने को लेकर श्यामला हिल पुलिस के द्वारा दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है। हालांकि गिरफ्तारी को लेकर पार्षद व उनके पति के बचाव में कुछ कांग्रेस के  नेताओं द्वारा विरोध भी किया गया। लेकिन पुलिस किसी की ना सुनते हुए दोनों को थाने ले आए। गिरफ्तारी के दौरान आशिफ जकी ने  सरकार द्वारा अवैधानिक रूप से मकान तोड़े जाने  बताया गया कि अभी इस मकान का न्यायालय में प्रकरण चल रहा है फिर भी श्यामला हिल्स थाने में उन्हें गिरफ्तार किया गया। इन्होंने गिरफ्तारी के दौरान कहा कि न्यायालय में इस मकान का प्रकरण विचारा धीन है। इसे तोड़ा जाना गलत है।