ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
नौजवानों को सही दिशा दी जाएं- पूर्व राज्यपाल सोलंकी
February 6, 2020 • Vijay sharma

जनजातीय क्षेत्रों में अपार खनिज संपदा, रोजगार के अवसर बढ़ाए सरकार, वाल्मी में चल रहे राष्ट्रीय आदिवासी युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम में युवा संसद

भोपाल। नेहरू युवा केंद्र संगठन मप्र द्वारा गृह मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से वाल्मी में चल रहे 12 वें राष्ट्रीय आदिवासी युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम के पांचवें दिन युवा संसद का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि हरियाणा,त्रिपुरा के पूर्व राज्यपाल प्रो कप्तान सिंह सोलंकी ने युवाओं को संबोधित किया।स्वागत उद्बोधन नोडल अधिकारी डॉ सुरेंद्र शुक्ला एवं संचालन शुभम चौहान ने किया।
प्रो.सोलंकी ने उद्घाटन वक्तव्य देते हुए कहा कि नौजवानों को योग्य दिशा दी जाएं, उनके मन में यह भाव आए कि यह देश आपका है।समाज में मातृभूमि के प्रति प्रेम का जब अभाव होता है तब ही आतंकवाद पनपता है। उन्होंने युवाओं के उद्वोधन की प्रशंसा करते हुए कहा कि इन युवाओं के भाषण तो संसद में होना चाहिए। इस तरह के आयोजनों से एक भारत- श्रेष्ठ भारत की संकल्पना को मूर्त रूप दिया जा सकेगा।

युवा संसद के माध्यम से युवाओं ने जनजातीय क्षेत्रों में व्याप्त समस्याओं एवं सरकारी की नीतियों पर विचार विमर्श किया।

कुंदन कुमार ने कहा कि शिक्षित समाज में आतंकवाद की कल्पना भी नहीं की जा सकती। झारखंड के प्रतिभागियों ने कहा कि आज भी हमारे यहां सड़क, बिजली और अच्छी शिक्षा व्यवस्था का अभाव है।
उड़ीसा के कंधमाल जिले के प्रतिभागी राजेंद्र ने कहा कि उड़ीसा में अब हालात बदल रहे हैं भारत सरकार की पहल पर इस तरह के आयोजनों से हमें भारत के विभिन्न क्षेत्रों में जाने का मौका मिलता है और बहुत कुछ सीखते हैं। आंधप्रदेश की प्रतिभागी सलोनी ने कहा कि जनजातीय क्षेत्रों में खनिज संपदा अपार है इसलिए सरकार को रोजगार के अवसर बढ़ाने चाहिए। वहीं द्वितीय सत्र में ब्रह्मकुमारी संस्थान से सुकन्या राय, दीदी अंजू एवं पूजा ने सहजयोग और ध्यान के बारे में बताया।

*प्रकृति के रंग- वाल्मी के संग आज*
वाल्मी में दिनांक 7 फरवरी को पर्यावरण एवं इकोलॉजी के बेहतर प्रबंधन तथा जागरूकता हेतु कार्निवाल का आयोजन किया जा रहा है। इसमें प्रकृतिक इकोलॉजिकल ऑक्सीजन पार्क, ट्रैकिंग, वृक्षारोपण, सांस्कृतिक कार्यक्रम, फूड फेस्टिवल/स्वयं सहायता समूह गेम्स, क्विज कंपटीशन, हॉर्सराइडिंग, तंग राइडिंग आदि कार्यक्रम में झारखंड, आंध्र प्रदेश उड़ीसा के प्रतिभागियों सहित अधिक से अधिक प्रतिभागियों के शामिल होने की संभावना है। कार्यक्रम में प्रदेश के विकास के क्षेत्र में की जा रही योजनाओं, आदिवासी वर्ग के लिए चलाई जा रही योजनाओं की प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। इस कार्यक्रम में 5-10 हजार व्यक्तियों के शामिल होने की संभावना है इच्छुक प्रतिभागी मोबाइल नं 9926453182 पर सम्पर्क कर सकते हैं।