ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
निजी अस्पताल अपने यहाँ फीवर क्लीनिक की जानकारी चस्पा करें : लवानिया_
June 20, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

निजी छोटे बड़े हॉस्पिटल कोविड-19 के मरीजों की जानकारी संधारित करें

भोपाल। राजधानी में विगत दिनों जिला प्रश्न के द्वारा 56 फीवर क्लिनिक खोले गए।जिनमें शहर के सर्दी खांसी बुखार व् कोविड 19 की जांच व् उपचार किये जाने है  जिसके लिए आज जिले के सभी निजी अस्पताल संचालकों को कलेक्टर ने सभी छोटी बिमारियों के मरीजों को फीवर क्लीनिक में भेजने के निर्देश दिए है। कलेक्टर अविनाश लवानिया ने सभी नर्सिंग होम संचालकों से सर्दी-खाँसी अथवा अन्य बीमारी से संबंधित मरीजों में संक्रमण या बुखार आने पर अपने निकटतम शासकीय फीवर क्लीनिक में रेफर करे। इसके साथ ही अपने नर्सिंग होम के बाहर सभी शासकीय फीवर क्लीनिक की जानकारी चस्पा करें। यह निर्देश उन्होंने आज कलेक्ट्रेट कार्यालय में संपन्न हुई नर्सिंग असोसिएशन के साथ कोविड-19 की समीक्षा के दौरान दिये। कलेक्टर श्री लवानिया ने समस्त अनुविभागीय दंडाधिकारी और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया है कि शहर में स्थित प्राइवेट, निजी क्लीनिक, नर्सिंग होम, हॉस्पिटल आदि के निकटतम शासकीय फीवर क्लिनिक जहां कोविड-19 के लक्षण की नि:शुल्क जांच की जा रही है। उसका विवरण जानकारी पोस्टर-बैनर के रूप में सभी निजी क्लीनिक, नर्सिंग होम, हॉस्पिटल पर आमजन की सहूलियत और जानकारी के लिए चस्पा कराये। इसके अतिरिक्त नर्सिंग, निजी संस्थानों के प्रभारी इस संबंध में बैठक आयोजित अपने निकटतम शासकीय फीवर क्लीनिक में ऐसे लक्षण वाले मरीजों को रेफर कर उसका पूर्ण विवरण निर्धारित रजिस्टर में अंकित कर रिकॉर्ड संधारित करने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी शासकीय फीवर क्लीनिकों में उपचार करने आये व्यक्तियों को भी निजी नर्सिंग होम अथवा हॉस्पिटल से रेफर करने पर संबंधित व्यक्ति का विवरण भी रजिस्टर में संधारित करें। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों और तहसीलदारों को निर्देशित किया की वे अपने क्षेत्र में नर्सिंग होम एसोसिएशन और नर्सिंग होम संचालकों के साथ बैठक आयोजित करें जिससे आमजनों को इस सुविधा का लाभ मिल सके और वह समय रहते फीवर क्लीनिक पर अपनी जांच और उपचार करा सके। समीक्षा बैठक में नगर निगम आयुक्त वीएस कोलसानी, अपर कलेक्टर सतीश कुमार, अनिल वशिष्ठ, जिला पंचायत सीईओ विकास मिश्रा सहित नर्सिंग होम एसोसिएशन के पदाधिकारी उपस्थित थे।