ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
पांच संस्थानो पर 2 लाख 45 हजार का जुर्माना लगाया गया
February 14, 2020 • Vijay sharma

शुद्ध के लिए युद्ध
भोपाल। अतिरीक्तत कलेक्टर सतीश कुमार .एस  ने शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के अंतर्गत लिए गए नमूनों की जांच उपरांत प्रस्तुत की गई रिपोर्ट पर सुनवाई करते हुए आज पांच व्यापारियों और  संस्थानों पर 2 लाख 45 हजार  का जुर्माना लगाया है। अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी सतीश कुमार एस के न्यायालय में प्रस्तुत प्रकरणों पर सुनवाई के उपरांत भोपाल के 5 संस्थानों पर जुर्माना अधिरोपित किया गया।अंकित नीखरा, ब्रज गोपाल स्वीट चूना भट्टी भोपाल से अवमानक दही विक्रय पर 20 हजार रूपये की राशि, दिनेश मीना गुरूकृपा ट्रेडर्स हनुमानगंज पर 5 हजार और पेशुमल बत्रा गुरूकृपा ट्रेडर्स अनुमानगंज भोपाल से मिथ्याछाप अंश नेचुरल एडिबल फेट का विक्रय पर 20 हजार रूपये, शरद श्रीवास्तव श्री गायत्री ट्रेडर्स गोविंदपुरा को अवमानक सिल्वरकाइन बेसन एवं मिथ्याछाप फ्रूटवेली मैंगो ड्रिक का विक्रय करने पर 50 हजार, शशिकांत पटेल लायसेंसी संघवी फूड्स देवास, अनिल कुमार इंचार्ज ऑफ आपरेशन संघवी फूड्स देवास, संजय पाण्डेय लायसेंसी एस जी ड्रिंक्स प्रा.लि. सोनीपत हरियाणा को अवमानक सिल्वरकाइन बेसन एवं मिथ्याछाप फ्रूटवेली मैंगो ड्रिक का विक्रय करने पर 20 - 20 हजार, राजीव नामदेव शुभम इंटरप्राइजेज अवधपुरी खजूरी कला भोपाल को मिथ्याछाप  लीची फृलेवर्ड ड्रिंक का विक्रय करने पर 20 हजार, कैलाशचंद्र लोधी के-2 क्लब एंड लाउन्ज चूनाभट्टी कोलार रोड भोपाल को मिथ्याछाप किंगफिशर प्रीमियम लार्ज बियर का विक्रय करने पर 10 हजार, अजीत सिंह पटेल मालिक के-2 क्लब एंड लाउन्ज चूनाभट्टी कोलार रोड, नरेन्द्र पटेल पार्टनर के-2 क्लब एंड लाउन्ज चूनाभट्टी कोलार रोड, सिद्धांत शर्मा पार्टनर के-2 क्लब एंड लाउन्ज चूनाभट्टी कोलार रोड, भोपाल को मिथ्याछाप किंगफिशर प्रीमियम लार्ज बियर का विक्रय करने पर  20- 20 हजार रूपये की राशि अधिरोपित की है ।

खाध सुरक्षा विभाग की सागर गैरे पर छापा मार कार्रवाई
आज खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारियों ने 7 नम्बर. स्थित सागर गैरे रेस्टोरेंट पर  आकस्मिक कार्यवाही कर घी व चीज़ के सैंपल लिए ।
 खाध सुरक्षा अधिकारी  डीके वर्मा ने बताया की  सागर गैरे की शिकायत प्राप्त हुई थी कि उक्त रेस्टोरेंट पर मिलावटी घी व चीज़ का उपयोग खाद्य पदार्थों में हो रहा है । मोके से घी व चीज़ के सैंपल जप्त कर जांच के लिए भेजे गए है।