ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
पलसी ऑक्सीमीटर कोरोना संदिग्धों की होगी जांच
May 15, 2020 • Admin

भोपाल। कंटेंटमेंट क्षेत्र और हॉटस्पॉट वाले क्षेत्रों जैसे जहांगीराबाद , मंगलवारा क्षेत्रो में पल्सी ऑक्सीमीटर के माध्यम से फर्स्ट कांटेक्ट और संदिग्धों की जांच की जा रही है । विशेषकर सर्दी, खासी, बुखार के मरीज जो संदिग्ध हैं और फर्स्ट कॉन्टेक्ट वाले लोग है। इनकी जांच की  कार्रवाई की पलसी ऑक्सी मीटर से किया जाना है उसके पहले उनकी पल्स ऑक्सीमीटर से जांच की जाएगी उनका sp02से यदि 95 से नीचे आएगा उनको आइसोलेशन में रखा जाकर , सेम्पलिंग की कार्रवाई की जाएगी।
 कोंटेन्मेंट क्षेत्रों में लगातार मिल रहे मरीजों को देखते हुए कोरोना की चैन को तोड़ने के लिए डॉक्टरों की सलाह पर कलेक्टर  श्री पिथोडे ने पल्सी ऑक्सीमीटर जांच कराने के निर्देश दिए हैं। आज से ही 100 से अधिक पल्सी ऑक्सीमीटर संबंधित स्क्रीनिंग करने वाले कार्यकर्ताओं को उपलब्ध करा दी गए है। इसके साथ ही  हॉट स्पॉट वाले क्षेत्र के लोगों को भी पल्स ऑक्सीमीटर चलाने के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है जिससे अपने आसपास के क्षेत्रों के लोगों के ऑक्सी जांच कर सके पल्स ऑक्सीमीटर pso2 यदि 75  से नीचे आ रहा है उनको आइसोलेशन में रखे जाएगा और उनकी सेम्पलिंग की जाएगी। इसके साथ ही होम्योपैथिक और आयुर्वेदिक विभागों द्वारा लगातार आयुर्वेदिक काढ़ा और प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली दवाएं लगातार प्रदान की जा रही है साथ ही लोगों को एडवाइज किया जा रहा है कि योग प्राणायाम के साथ ही प्रोटीन की मात्राएं अपने खाने में शामिल करें ,इसके साथ ही *विटामिन सी* के लिए संतरा और विटामिन सी बढ़ाने वाली खुराक अपने खाने में शामिल करें ।
लोगों को समझाइश दी जा रही है कि घरों से ना निकले कंटेनमेंट क्षेत्रों में सभी घरों में रहकर भी मास्क लगाएं और कोशिश करें कि हर आधे घंटे में हाथ साबुन से धोये। लोगो को आइसोलेट करने के लिए भी लगातार कार्रवाई की जा रही है अभी तक 800 से अधिक लोगों को आइसोलेशन में किया जा चुका है कई घरों में 40 से अधिक सदस्य निवास कर रहे हैं , कोरोना संक्रमण से बचाने के लिये उनको भी दूर करने के लिए अलग होटल और लॉज धर्मशाला शादी हाउस में शिफ्ट किया जा रहा है जिससे कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ा जा सके और भोपाल को ग्रीन जोन में  लाया जा सके.