ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
पंचायत भवनों में आस्था और सामाजिक गतिविधियों होंगी संचालित
June 17, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

 

भोपाल । संभाग में ग्राम पंचायत भवनों को

व्यवस्थित रूप देकर क्रियाशील कर आस्था और सामाजिक गतिविधियों का केन्द्र बनाया जायेगा । इन्हें शासकीय योजनाओं व ग्रामों की गतिविधियों को संचालित करने के मंच के साथ ग्रामवासियों की सामाजिक जागरूकता, शारीरिक एवं बौद्धिक गतिविधि का केन्द्र के रूप में विकसित किया जायेगा । संभागायुक्त कवीन्द्र कियावत ने इस संबंध में संभाग के कलेक्टर्स को निर्देश दिए हैं । ग्राम पंचायत भवनों की एकरूपता और रंग-रोगन करने के साथ साथ विभिन्न गतिविधियां संचालित करने के आदेश किये गए हैं । गतिविधि केन्द्र के रूप में विकसित करने के लिए ग्राम पंचायत भवन में एक वाचनालय/ पुस्तकालय की गतिविधि भी संचालित की जाए, जिसमें 6 से 14 वर्ष की उम्र के बच्चों के लिये राष्ट्रप्रेम, नैतिकता, महापुरूषों के जीवन पर आधारित कथाएं, लोककथाएं जैसे साहित्य का समावेश हो। ग्राम पंचायत के परिसर में यदि स्थान उपलब्ध हो, तो वहां कबड्डी, वॉलीबाल आदि खेलों की भी व्यवस्था और बाउंड्रीवॉल फेंसिंग होने पर बागवानी की गतिविधि भी की कराएं । ग्राम पंचायत भवन के बाहरी भाग में स्थान उपलब्ध होने पर एक चबूतरा बनवाया जाए, जहां ग्राम के सभी कार्यक्रमों तथा संगोष्ठी की गतिविधि हो सके। जारी निर्देशों के अनुसार ग्राम पंचायत भवन में मुख्य कक्ष को मीटिंग हॉल एक कक्ष कार्यालय तथा एक अन्य कक्ष विश्राम कक्ष के रूप में विकसित किया जायेगा, ताकि ग्राम स्तर पर भ्रमण पर आने वाले शासकीय सेवक रात्रि विश्राम के लिये इस कक्ष का उपयोग कर सकें। बैठक कक्ष में महापुरूषों के चित्र लगवाए, महत्वपूर्ण जानकारी और शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं के नाम आदि की जानकारी भी पंचायत भवनों की दीवारों पर उचित स्थान पर प्रदर्शित की जायेगी । टी.वी. को इस प्रकार से लगवाया जाए कि ग्रामवासी कृषि, पशुपालन व सामाजिक जागरूकता आदि से संबंधित जानकारी इस व्यवस्था के माध्यम से ले सकें। संभाग में सभी ग्राम पंचायत भवनों के बाहरी भाग हल्के पिंक रंग में एवं भवनों के आंतरिक भाग में सफेद रंग की पुताई कराई जायेगी । ग्राम पंचायत एवं जनपद पंचायत का नाम प्रमुखता से भवनों के बाह्य भाग पर काले पेंट की पृष्ठभूमि पर पीले रंग से लिखवाया जाएगा । प्रत्येक मंगलवार को प्रातः 1 बजे से 1 बजे के मध्य होने वाली जनसुनवाई की सूचना पंचायत भवन की दीवार पर लिखवाई जाएगी । पंचायत परिसर में ध्वजारोहण के लिये फ्लैगपोस्ट स्थापित किया जाएगा । ग्राम पंचायत भवन को प्रतिदिन सुबह दस से शाम पांच बजे तक अनिवार्यतः रूप से खोला जाएगा और साफ-सुथरे शौचालय, पेयजल, विद्युत आपूर्ति तथा पंखों की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करें । इसके अलावा ग्राम पंचायत भवन में टूट-फूट, मरम्मत आदि का कार्य को प्राथमिकता से पूर्ण करवाया जाए। ग्राम पंचायत भवन में एक निरीक्षण पुस्तिका संधारित करें जिसमें निरीक्षणकर्ता अधिकारी और अन्य कार्यों से आये शासकीय अमले द्वारा ग्राम पंचायत के रख-रखाव एवं कार्य प्रणाली पर निरीक्षण उपरांत टीप अंकित की जा सके। इन सभी निर्देशों को जमीनी स्तर पर संचालन के लिए 17 जून से 31 जुलाई 20 तक एक अभियान चलाया जायेगा । इस अभियान में ग्राम पंचायत के कार्यों से संबंधित अन्य विभागों एवं ग्रामवासियों से ग्राम स्तर पर सुझाव भी लिये जायेंगे।