ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
पेन ड्राइव में है किसानों का कर्ज माफी डाटा: कमलनाथ
August 27, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल। मध्य प्रदेश में होने वाले 27 सीटों पर उपचुनाव को लेकर कांग्रेस और बीजेपी ने पूरी तरह से कमर कस ली है। जहां बीजेपी चुनाव की रणनीति को लेकर मंथन कर रही है, वहीं कांग्रेस ने आज पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के बंगले पर  उपचुनाव क्षेत्र प्रभारियों के साथ , बैठक आयोजित की गई । बैठक से पहले मीडिया से चर्चा करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि हमने पिछले 4 महीनों में पूरा समय लगाकर अपने संगठन को मजबूत किया है। उन्होंने कहा की होने वाले उपचुनाव को मैं उपचुनाव और आम चुनाव नहीं मानता हूं यह चुनाव प्रदेश की प्रतिष्ठा का चुनाव है। उन्होंने कहा कि यह  मध्य प्रदेश के हर मतदाता को मेरा संदेश है कि मध्य प्रदेश का 15 साल का चित्र उनके सामने है और हमारे 15 महीनों का चित्र उनके सामने हैं जिनमें हमने परिचय दिया है अपने नीति और चरित्र का। कमलनाथ ने कहा कि कमलनाथ का साथ ना दें कांग्रेस पार्टी के साथ ना दे मगर सच्चाई का साथ दें। कमलनाथ ने कहा कि सौदे की राजनीति से चुनाव कितना कलंकित हुआ है बनी हुई सरकार का सौदा किया गया यह सब कहते हैं क्या यह भारतीय जनता पार्टी वाले जनता से भी कहेंगे कि हमने सौदा किया है इसलिए उन्होंने इस्तीफा दिया है यह तो नहीं कह सकते कि उन्होंने सौदा किया है अब कहेंगे कि कर्जा माफ नहीं हुआ पूरी बात स्पष्ट है इसलिए मेरे पास पेन ड्राइव है और यह पेन 
यह आम चुनाव नहीं है: कमलनाथ
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि यह चुनाव कोई आम चुनाव नहीं है यह चुनाव मध्य प्रदेश के भविष्य का चुनाव है।भाजपा का ग्वालियर में भी बड़ा कार्यक्रम हुआ। जिन्होंने खुद कर्जा माफ के कार्यक्रम किए अब वो कह रहे है कि कर्जा माफ नही हुआ है। ये झू ठ है अब नही चलेगा। मेरे पास पेन ड्राइव है में ये सभी को देना चाहता हूं जिसमे सारी डिटेल है किसान का नाम खाता नम्बर कितना कर्ज़ा माफ हुआ सभी कुछ है।कुछ लोग कहते है कि कमलनाथ किसी से मिलते नही थे ये झूठ बोलते है। अब ये जनता के बीच जाकर क्या कहेंगे कि कर्ज़ा माफ नही हुआ। मेरा प्रयास था कि माफिया से मध्यप्रदेश की पहचान न बने, मिलावट से मध्यप्रदेश की पहचान न बने इसलिए मैंने माफिया के विरुद्ध कार्यवाही की। हमे दबाने के लिए भाजपा प्रशासनिक उपयोग कर रही है। लेकिन में कहना चाहता हु की पुलिस वाले अपनी वर्दी की इज़्ज़त करे और अधिकारी अपनी शपथ की इज़्ज़त करे। में कहना चाहता हु सबकी सारी बाते रेकॉर्ड में ली जा रही है, सबका हिसाब किताब लिया जाएगा।