ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
राजधानी में आज 39 व्यक्ति कोरोना से स्वस्थ हुए, किया डिस्चार्ज
May 12, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस के उपलक्ष्य में केक काटकर कोरोना वारियर्स नर्सो का किया उत्साहवर्धन

मुख्यमंत्री और जिला प्रशासन का आभार माना

 भोपाल। कोरोना संक्रमण को हराकर पूरे भोपाल को कोरोना मुक्त बनाने का लक्ष्य अपने हौसले और जज्बे से हासिल करेंगे। हम आगे बढ़ेंगे और जीतेंगे। यह वाक्य कोरोना योद्धाओं के साथ आज कोरोना संक्रमण से ठीक हुए 39 व्यक्तियों ने अपने घर के लिये रवाना होते हुए कही।  जिला प्रशासन के बेहतर प्रबंध  और चिरायु अस्पताल के डॉक्टर्स के अच्छे इलाज के चलते 39 व्यक्ति पूर्णतः स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए। अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस के उपलक्ष में  कोरोना योद्धा नर्सो के सम्मान में केक काटकर उनका उत्साहवर्धन किया गया।

    आज डिस्चार्ज हुए 39 लोगो में भोपाल के मुन्ने खान, मो सादिक, रूमेशा, मो शहदाब, मो अरहम, नवीन सूर्यवंशी, कल्याण सिंह, रिचा त्रिपाठी, लोकेंद्र धाकड़, शिवानी विश्वकर्मा, बलराम प्रजापति, रूबी बानो, मोना अजीत, शैलेंद्र कुमार सिंह, लाइबा बानो, मरियम फातिमा, मुन्ना लाल प्रजापति, चंद्र प्रकाश प्रजापति, रोहित प्रजापति, भूरिया भाई प्रजापति, कमला बाई, सरस्वती मर्सकोले, ईश्वरदास संगतानी, सचिन कुमार खींचे, विजय सिंह मारण, हनैया आतिफ, शाहबुद्दीन, गोविंद राव पवांर, शबीना अंजुम, नीतू बाथम, सत्येन्द्र सिंह बाथम, नवजीत सिंह बाथम, हुथनीफ, तन्हून सोले, कोने और बोने शामिल है। इसके साथ डिस्चार्ज हुए लोगो में रायसेन जिले के निवासी वर्षा अग्रवाल, मायावती, फसिहा इरफान खान है।   
    आज डिस्चार्ज हुए  सादिक ने  जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया । उन्होंने सभी डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ को दिलो जान से खिदमत की और इलाज करने के लिए धन्यवाद दिया।आज डिस्चार्ज हुए सभी लोगों ने जिला प्रशासन का हार्दिक धन्यवाद दिया। भोपाल वासियों से कोरोना संक्रमण से ना घबराते हुए आगे आकर जांच कराने के लिए अपील की* कोरोना एक सामान्य सर्दी खांसी कि तरह ही बीमारी है। इसको किसी से छुपाने की जरूरत नही है।इसका जितना जल्दी पता चलेगा उतनी जल्दी इसका इलाज हो पाएगा।
उन्होंने बताया जिला प्रशासन द्वारा यहां उच्च स्तरीय स्वास्थ्य व्यवस्था उपलब्ध कराई है। इलाज के साथ-साथ उन्होंने हमारा मनोबल बढ़ाया, उत्साह वर्धन किया। इस तरह साझे प्रयास के फलस्वरूप ही हम कोरोना संक्रमित से बहार होो पााये हैैं। ऑक्सीजन थेरेपी से कोरोना संक्रमण का सफल इलाज किया जा रहा है। आज डिस्चार्ज हुए सभी व्यक्तियों को घर पर ही 7 दिवस के होम कोरोटाइन की समझाइश दी गई । होम क्वॉरेंटाइन के बाद इन सभी से अपना प्लाज्मा डोनेट करने की अपील की गई । डोनेट किए गए प्लास्मा से अन्य कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों का प्लाज्मा थेरेपी चिकित्सा पद्धति से इलाज किया जाएगा।