ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
रंगमंच पर आज होंगे पारंपरिक खेल, गूंजेगी ‘मधुशाला’
November 4, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

 

‘विश्वरंग’ के अंतर्गत नुक्कड़ नाट्य समारोह का शुभारंभ आज

भोपाल। आधुनिक तकनीकी संसाधनों के नए दौर में पारंपरिक खेलों से दूर होती जा रही नई नस्ल को खेल मैदानों में पुकारता नाटक ‘आओ खेले खेल’ रवीन्द्रनाथ टैगोर विश्व विद्यालय के परिसर में आज (बुधवार) दोपहर 3.30 बजे खेला जाएगा। साहित्य और संस्कृति के बहुरंगीय उत्सव ‘विश्वरंग’ के अंतर्गत आयोजित तीन दिवसीय नुक्कड़ नाट्य समारोह की यह शुभारंभ प्रस्तुति होगी जिसे नाट्य संस्था त्रिकर्षि के कलाकार के.जी. त्रिवेदी के निर्देशन में पेश करेंगे। रंग समूह शेडो ग्रुप के कलाकार मनोज नायर द्वारा संयोजित रंग संगीत की प्रस्तुति देंगे जिसमें हरिवंशराय बच्चन की मधुशाला के अंश और विभिन्न नाटकों में प्रयुक्त गीत-संगीत शामिल किए जाएंगे। इसी के साथ विश्वरंग 2020 की सांस्कृतिक गतिविधियों का शुभारंभ होगा। विश्व विद्यालय के कुलाधिपति तथा विश्व रंग के निदेशक संतोष चैबे विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे।  

टैगोर विश्व कला एवं संस्कृति केन्द्र के निदेशक विनय उपाध्याय ने बताया कि पूर्वरंग की गतिविधियों के अंतर्गत इस बार विशेष रूप से नुक्कड़ नाटकों को शामिल किया गया है। 4, 5 और 6 नवंबर को प्रतिदिन नाट्य मंचन होंगे। रंग संगीत, सूफी संगीत और वतन परस्ती के तरानों से भी विश्वरंग का परिवेश गूंजेगा। कोविड-19 के तहत निर्देशों का पालन जारी रहेगा।  

टैगोर विश्वकला एवं संस्कृति केन्द्र के संयोजन और इफ्तेख़ार क्रिकेट अकादेमी के सहयोग से आयोजित इस समारोह के पहले दिन 4 नवंबर को के.जी. त्रिवेदी के निर्देशन में रंग समूह ‘त्रिकर्षि’ के कलाकार नुक्कड़ नाटक ‘आओ खेलें खेल’ की प्रस्तुति देंगे। रंग संगीत के साथ ‘शेडो ग्रुप’ के कलाकार मनोज नायर के निर्देशन में पेश आएंगे। 5 नवंबर की प्रस्तुति होगी ‘कल का रंगमंच’, जिसे आलोक चटर्जी के निर्देशन में म.प्र. नाट्य विद्यालय के कलाकार प्रस्तुत करेंगे। इससे पूर्व मो. साज़िद अपने ‘रंग बैंड’ के फनकारों के साथ सूफ़ी कलाम की महफिल सजायेंगे। 6 नवंबर की सभा का आरंभ सुरेन्द्र वानखेड़े अपने दल के साथ वतन परस्ती के तरानों का वृन्द गान कर करेंगे। नुक्कड़ नाटक होगा- ‘अभ्यास’, जिसे ‘द राइज़िंग सोसाईटी आॅफ आटर््स एण्ड कल्चर’ के रंगकर्मी गोदान और तानाजी के निर्देशन में पेश करेंगे।

उल्लेखनीय है कि विश्वरंग-2020 भारत सहित दुनिया के 15 से भी ज्यादा देशों में एक साथ मनाया जा रहा है जिनमें यूएसए, कनाडा, यूके, नीदरलैंड, अमरिका, आॅस्ट्रेलिया, रशिया, उजबेकिस्तान, सिंगापुर, श्रीलंका, फीज़ी आदि प्रमुख रूप से शामिल हैं। साहित्य, संस्कृति और कला से जुड़े विषयों के सैकड़ों विशेषज्ञ और रचनाधर्मी इस जलसे में शिरकत कर रहे हैं। सभी प्रस्तुतियों का प्रसारण विश्वरंग के वर्चुअल प्लेटफार्म पर आॅनलाइन किया जा रहा है। मुख्य समारोह 20 से 29 नवंबर को होगा।