ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
रेलवे पटरी पर जानवरों को जाने से रोकने हेतु भारत स्काउट्स एवं गाइड्स ने चलाया जन जागरूकता अभियान
October 18, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल 1 रेल पटरी पर मवेशियों के आने की घटनाओं को रोकने के लिए पूरे भोपाल मण्डल पर
व्यापक जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में पश्चिम मध्य रेल भारत
स्काउट्स एवं गाइड्स भोपाल मण्डल द्वारा भी सक्रिय सहयोग दिया जा रहा है।
     इसी कड़ी में भारत स्काउट्स एवं गाइड्स द्वारा गुलाबगंज एवं पबई के मध्य रेल पटरी के
आस-पास अपने मवेशियों को चारा चरा रहे गॉंवों/बस्तियों के मवेशी मालिकों से मिलकर उन्हें
समझाया गया कि अपने जानवरों को रेल पटरी के पास न जाने दें। चारा चरते समय हमेशा
अपने मवेशियों के साथ रहें क्योंकि पालतू जानवरों का रेलवे ट्रैक पर जाना ट्रेसपासिंग (
Trespassing) में आता है। जानवर को पटरी पर छोड़ देने तथा उसकी जान और रेल परिचालन
को ख़तरा पैदा करने वालों के ख़िलाफ़ रेलवे प्रशासन रेल अधिनियम की धारा 147 के तहत
कार्यवाही करेगा, जिसमें 6 माह तक की जेल अथवा 500 रुपये से 1000 रुपये तक का जुर्माना
अथवा दोनों की सजा हो सकती है
      उल्लेखनीय है कि रेल पटरी पर मवेशियों के आने की घटनाओं को रोकने के लिए मण्डल के
सभी रेल सुरक्षा बल आउट पोस्टों के प्रभारियों तथा रेल पथ निरीक्षकों के नेतृत्व में पूरे भोपाल
मण्डल में रेल पटरी के नजदीक के गाँव व बस्तियों में जगह-जगह शिविर लगाकर मवेशी
मालिकों को समझाया जा रहा है कि पटरी पर जानवर आकर ट्रेन से टकराने से उनकी जान
जाने के  साथ ही रेल संरक्षा के लिए भी घातक है। इसलिए रेल पटरी पर अपने जानवरों को
जाने से रोकें।
     मण्डल रेल प्रबंधक ने एक बार फिर अपील की है कि मवेशियों के मालिक अपने मवेशियों
को ट्रैक पर न आने दें।
पशु हमारे पर्यावरण के महत्वपूर्ण अंग हैं और रेल गाड़ी से टकराकर इनका कट जाना हम सब
के लिये एक बहुत बड़ी क्षति है। सभी को चाहिये कि पशुओं को पटरी पर आने से रोकें और
उनका सही पालन पोषण करें, जिससे हमारा ecosystem (पारिस्थितिकी तंत्र) सुदृढ़ बना रहे।