ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
ऋण माफी का शिविर में मिला सर्टिफिकेट, नो ड्यूज हेतु भटक रहा किसान
March 5, 2020 • Vijay sharma
 
नरसिंहपुर। मध्यप्रदेश में किसानों की कर्ज माफी को लेकर एक और जहां किसान ऋण माफी प्रमाणपत्र बांटे जा रहे हैं तो दूसरी ओर कुछ ऐसे किसान भी हैं जो अपने ऋण माफी को लेकर बैंकों सहित कार्यालयों के चक्कर आज भी काट रहे है।ं मामला नरसिंहपुर के किसान संतोष ढीमर का है जिसके द्वारा बताया गया है कि उसका यूको बैंक शाखा नरसिंहपुर में किसान क्रेडिट कार्ड था जिसके माध्यम से वह खेती किसानी के कार्य हेतु बैंक से ऋण लिया था। मध्यप्रदेश की वर्तमान सरकार द्वारा अपने वचनपत्र में किसानों की ऋण माफी का जो वादा किया था उसकी श्रेणी में किसान संतोष भी पात्र पाया गया था।  जिसे मध्यप्रदेश में किसानों के ऋण माफी की जानकारी मिली और उसने जब मध्यप्रदेश सरकार द्वारा संचालित एमपी ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से जानकारी मिली कि उसका ऋण को माफ कर दिया गया है । ऋणमाफी की सूचना के आधार पर जब वह बैंक गया तो उसे पता चला कि उसके ऋण की जो राशि 44915 रुपये थे वह तो अभी उसके बैंक खाते में आये ही नहीं हैं और बैंक उसे नोड्यूज प्रमाणपत्र भी जारी नहीं कर रहे हैं।  इस बात को लेकर किसान संतोष पिछले कई महीने से कार्यालयों के चक्कर काट रहा है, किंतु उसे अभी तक बैंक द्वारा नो ड्यूज सर्टिफिकेट प्रदान नहीं किया गया है।