ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
सदर मंजिल में म्यूजियम भी बनाया जाएगा: लवानिया
September 4, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

मोती महल के जीर्णोद्वार के लिए डीपीआर बनाई जाएगी: प्रमुख सचिव पुरातत्व
 भोपाल । संस्कृति, पुरातत्व और जनसम्पर्क प्रमुख सचिव शिव शेखर शुक्ला ने सदर मंजिल, मोती महल, गौहर महल का निरीक्षण कर सदर मंजिल में पुर्नउद्दरीकरण और पुरातत्व  वैभव लौटाने के कार्यों की सराहना की और सदर मंजिल में भोपाल के इतिहास से संबंधित म्यूजियम बनाने के निर्देश भी दिए। श्री शुक्ला ने कहा है कि सदर मंजिल अपने पुराने वैभव में आने के बाद भोपाल का दर्शनीय स्थल बनेगा। इसमें एक जगह म्यूजियम के लिए रखी जाए, स्मार्ट सिटी और नगर निगम इस संबंध में कार्रवाई शुरू करें। सदर मंजिल क्षेत्र में विगत दिन हुई घटना के मद्देनजर पुरातत्व विभाग के प्रमुख सचिव और कलेक्टर ने स्थल का निरीक्षण किया। इस दौरान रेस्टोरेशन का कार्य भी देखा। प्रमुख सचिव ने चल रहे कार्यो पर संतुष्टि व्यक्त करते हुये कहा कि ऐतिहासिक इमारतों के लिये विशेष कार्य योजना बनाई जायेगी और प्रदेश में इतिहास को समेटे इमरतों-महलों के जीर्णोद्वार के लिये कार्य किया जायेगा। पुरातत्व के प्रमुख सचिव श्री शुक्ला ने मोती महल का निरीक्षण के दौरान इसके जीर्णोद्धार के लिए डीपीआर बनाए जाने की बात की कहीं इसके साथ ही भोपाल की अन्य ऐतिहासिक इमारतों का ऑडिट कराया जाएगा और व्यवस्थित होने वाली इमारतों के लिए कार योजना बनाई जाएगी। कलेक्टर अविनाश लवानिया ने निरीक्षण के बाद नगर निगम को सदर मंजिल और अन्य ऐतिहासिक पुरानी इमारतों के आसपास पार्किंग हटाने के निर्देश दिए । इसके साथ ही पुरानी इमारतों की मजबूती जांचने के लिए भी कहा है जिससे वर्षा काल में किसी भी दुर्घटना को रोका जा सके।निरीक्षण के दौरान नगर निगम आयुक्त  वी.के. चौधरी कोलसानी, स्मार्ट सिटी के अधिकारी, पुरातत्व और नगर निगम के इंजीनियर भी उपस्थित रहे।