ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
सर्दी-खासी, बुखार या सांस की नजदीकी फीवर क्लीनिक पर करा सकते हैं जांच: पिथोड़े
May 25, 2020 • Admin

कलेक्टर ने वीडियो के माध्यम से शहरवासियों को दिया संदेश

अर्ली डिटेक्शन से कोरोना संक्रमण को दे सकते हैं मात

भोपाल । कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने वीडियो के माध्यम से शहरवासियों से आग्रह किया है कि वे इस संक्रमण के दौरान अपना और अपने परिवार का बचाव करें और घर में रहकर इस आपदा से सुरक्षित रहें। उन्होंने बताया कि *भोपाल जिले में अभी तक 850 से ज्यादा लोग इस महामारी से रिकवर हो चुके हैं,* जिन्हें कोरोना संक्रमण हुआ था। हम आज इन सभी को शीघ्र स्वस्थ कर पाए हैं इसका मुख्य कारण ऐसे लोगों को अर्ली डिटेक्शन किया गय। साथ ही इन सभी लोगों ने जांच कराने और अर्ली डिटेक्शन पहचान में सहयोग किया। इससे उन तमाम लोगों की कांटेक्ट ट्रेसिंग कर फर्स्ट कांटेक्ट हिस्ट्री निकालकर कर उन्हें ढूंढने में हमारे सर्विलेंस सर्वे टीम द्वारा उनकी जानकारी एकत्रित कर सभी को अर्ली डिटेक्शन से स्वास्थ्य लाभ दे पाए हैं। कलेक्टर श्री पिथोड़े ने सभी लोगों से कहा है कि कोरोना संक्रमण से ठीक होने का रिकवरी रेट बहुत अच्छा है। उन्होंने सभी से अनुरोध किया है कि अगर घर में कोई व्यक्ति जो किसी भी प्रॉब्लम से ग्रसित है, बुखार या सांस लेने में तकलीफ हो रही है, सर्दी-खांसी या जुखाम है तो उसकी जानकारी आप जिला प्रशासन या स्वास्थ्य विभाग तक पहुंचा सकते हैं, यदि आपको लगता है कि आप स्वयं से आकर जांच कराना चाहते हैं, तो इसके लिए हमारे हेल्पलाइन नंबर 104, या लेंडलाइन नंबर 0755-2704201अथवा स्वास्थ्य विभाग को जानकारी दे सकते हैं। कोरोना संक्रमण से संबंधित कोई भी जानकारी नहीं छुपाए। शहर में विभिन्न क्षेत्रों में फीवर क्लीनिक प्रारंभ किए गए हैं,अर्बन क्लीनिक, रेलवे अस्पताल, संजीवनी क्लीनिक और गैस राहत अस्पताल खोले गए हैं। कोई भी व्यक्ति कोरोना संबंधी लक्षण नजर आने पर स्वयं से ही इन अस्पतालों में पहुंचकर अपना स्वास्थ्य परीक्षण करा सकते हैं। इससे अर्ली डिटेक्शन से कोरोना लक्षण की पहचान कर ऐसे व्यक्तियों को जल्द ही स्वास्थ्य लाभ दिया जा सकेगा।