ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
शातिर वाहन चोर गिरफ्तार, 6 मोटर साईकिल जब्त
October 23, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

भोपाल । राजधानी के देहात थाना गुनगा के अन्तर्गत पुलिस चौकी इमला पर वहां चेकिंग किए जाने दौरान शातिर दो पहिया वाहन चोर को गिरफ्तार किया गया साथ है उससे 6 मोटर सायकिल जब्त की गई। पुलिस से प्राप्त जानकारी अनुसार

बुधवार को प्रातः वाहन चेकिंग इमला चौकी पर की जा रही थी कि एक मोटर साईकिल चालक जो भोपाल तरफ से बैरसिया तरफ जा रहा थी की इमला चौकी के सामने बिना नम्बर की अपाचे मोटर साईकिल के चालक को रोककर पूछताछ किया जिसने अपना नाम सुनील पिता राजेन्द्र अहिरवार उम्र 19 साल निवासी रतुबा थाना शमसाबाद जिला विदिशा का रहना बताया अपाचे मोटर साईकिल का रजिस्ट्रेशन चाहा गया जो नहीं होना बताया आगे पीछे रजिस्ट्रेसन नंबर अंकित नहीं होने चोरी का संदेह होने पर इंजन नम्बर 0E6LV2120449 एवं चेचिस नंबर MD634KE6XB2L74464 को VDP पोर्टल के आधार पर चेक किया जो वाहन स्वामी राजेश शर्मा पिता शंकर लाल निवासी माधव नागर इंदौर का होना पाया गया तथा थाना खजराना जिला इंदौर के अपराध क्र.407/16 दर्ज होना VDP पोर्टल पर दर्ज होना पाया गया जो गाडी चोरी होने का पाया जाने से सुनील से सख्ती से पूछताछ की गई जिसने उक्त मोटर साईकिल को करौदं चौराहा शराब कलारी के पास से साथी (परिवर्तित नाम गोलू) के साथ दिनांक 21/10/20 को रात्री 11/30 बजे वाहन चोरी करना बताया सबब मौके पर उपस्थित पंचान के जप्त करके मौके पर उक्त वाहन बिना नंबर की अपाचे मोटर साईकिल सुनील के कब्जे से जप्त किया मौके पर ही मेमो चाक कर आरोपी से अन्य गाड़ियों के संबंध में पूछताछ किया जिसने अपने मेमोरेंडम में बताया की चोरी की अन्य मोटर साइकिलें बांदी खेडी के बनदेवी मंदिर के पास जंगल में बनी टपरिया में 5 मोटर साईकिल चोरी कर छिपा कर रखी है जिसे विधिवत सुनील की निशादेही मे जप्त कर पंचनामा तैयार किया गया कि कुल 6 मोटर साइकिलों कीमती करीब 2,50,000 को मुताबिक जप्ती पंचनामा के जप्त कर कब्ज़ा पुलिस लिया एवं वाहनों के सम्बन्ध में VDP पोर्टल से वाहन स्वामियों की जानकारी प्राप्त की जाती है, आरोपी सुनील पिता राजेंद्र अहिरवार उम्र 19 साल निवासी रतुबा थाना शमशाबाद जिला विदिशा के विरुद्ध इस्तगासा क्र.02/20 धारा 41(1-4)crpc/379 ipc का तैयार किया गया एवं अपचारी विधि विरूद्ध बालक (परिवर्तित नाम गोलू) को अभिरक्षा मे लेकर बाद काउंसलिंग किशोर न्यायालय भोपाल मे पेश किया जाता है ।