ALL शिक्षा मध्यप्रदेश मनोरंजन राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य खेल राजनीति
शूटिंग और एथलेटिक्स खेल प्रारंभ]खिलाडिय़ों ने किया अभ्यास
June 3, 2020 • Admin • मध्यप्रदेश

खिलाडिय़ों को जागरूक बनाने के लिए कार्यशाला आयोजित

भोपाल। टीटी नगर स्टेडियम में सेामवार से शूटिंग और एथेलेटिक्स खेलों की शुरुआत की गई। कोविड-19 संक्रमण के चलते काफी लंबे अंतराल के बाद खिलाडिय़ों ने टीटी नगर स्टेडियम में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। खिलाडिय़ों ने आज वाकिंग, स्ट्रैचिंग और जोगिंग का एक घंटे अभ्यास किया। संचालक खेल और युवा कल्याण व्हीके सिंह के निर्देश पर सबसे पहले खिलाड़ी बच्चों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई और उन्हें कोविड-19 संक्रमण से बचाव की जानकारी देने के उद्देश्य से एक कार्यशाला आयोजित की गई। इस कार्यशाला में शूटिंग और एथेलेटिक्स खेल के 30 खिलाडिय़ों सहित स्टाफ ने भागीदारी की। खेल प्रशिक्षकों को निर्देश खेल संचालक व्हीके सिंह के निर्देश पर आयोजित एक बैठक में सभी खेल प्रशिक्षकों को विभागीय गाइडलाइन का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए गए। टीटी नगर स्टेडियम स्थित मेजर ध्यानचंद हॉल में मंगलवार को संयुक्त संचालक डॉ विनोद प्रधान की अध्यक्षता में एक बैठक आयोजित की गई जिसमें कोविड-19 संक्रमण से बचाव के संबंध में सभी खेल प्रशिक्षकों से विस्तार से चर्चा की गई। खेल प्रशिक्षकों और स्टाफ से चर्चा उपरांत बैठक में निर्णय लिया गया कि सर्वप्रथम खिलाडिय़ों की थर्मल स्क्रीनिंग कराई जाए। साथ ही कोविड टेस्ट की प्रक्रिया को जारी रखा जाय। सभी के मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप अनिवार्य रूप से हो यह सुनिश्चित किया जाए। डॉ. विनोद प्रधान ने बताया कि कंटेंटमेंट एरिया के खिलाडिय़ों प्रशिक्षकों और स्टाफ का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। बैठक में विभाग द्वारा तैयार की गाइड लाइन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के खेल प्रशिक्षकों को निर्देश दिए गए। खिलाडिय़ों को मिली अहम जानकारी खिलाडिय़ों को कोविड-19 के प्रति जागरूक बनाने के उद्देश्य से टी. टी. नगर स्टेडियम में एक कार्यशाला आयोजित की गई जिसमें माइक्रो बायोलॉजिस्ट एवं सैनिटाइजेशन एक्सपर्ट डॉक्टर दीपेश अवस्थी ने खिलाड़ी बच्चों और स्टाफ को कोरोना वायरस के संक्रमण और इससे किए जाने वाले बचाव के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। डॉ. अवस्थी ने बताया कि सैनिटाइजेशन क्यों जरूरी है। उन्होंने खिलाड़ी को घर से निकलने और वापस घर पहुंचने तक बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में विस्तार से बताया।